scorecardresearch
 

वोट खरीदने का जुगाड़तंत्र

कोरोना की वजह से उपजी आर्थिक तंगी में वोटरों को धनबल के जरिये साधने की कोशिश. इसको लेकर संवेदनशील 300 विधानसभा सीटों की सूची चुनाव आयोग ने बनाई है.

प्रतीकात्मक फोटो (पीचीआइ) प्रतीकात्मक फोटो (पीचीआइ)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • चुनाव आयोग ने ऐसी विधानसभा सीटों के लिए आर्थिक ऑब्जार्बरों की तैनाती की है
  • पुद्दुचेरी की सभी 30 सीटों को इसको लेकर संवेदनशील माना गया है
  • आयोग को कई जगहों पर पैसे बांटे जाने की सूचना मिली है

कोरोना संकट की वजह से उपजी आर्थिक तंगी के बीच चुनाव लड़ रहे प्रत्याशी, वोटरों को धनबल के जरिए प्रभावित करने की कोशिश में लग गए हैं. पैसे देकर वोट पाने की जुगत में प्रत्याशी लगे हुए हैं इसकी भनक चुनाव आयोग को लगी है. इसे देखते हुए आयोग ने पांच राज्यों के लगभग 300 विधानसभाओं को धनबल के प्रयोग की सूची में डालते हुए, आर्थिक ऑब्जार्बरों की तैनाती की है. दक्षिण भारतीय राज्य पुद्दुचेरी के सभी 30 विधानसभा सीट को इस सूची में डाला गया है.

चुनाव आयोग के एक अधिकारी ने अनौपचारिक बातचीत में माना है कि ‘कोरोना की वजह से बड़े पैमाने पर लोगों की माली हालात पर असर पड़ा है. खासकर गरीब तबके के लोगों पर ज्यादा ही असर पड़ा है. तमिलनाडु और पुद्दुचेरी जैसे राज्यों में श्रमिकों की आमदनी काफी घट गई है और छोटे-मोटे कारोबार अभी तक पटरी पर नहीं लौट सके हैं. ऐसे लोग चुनाव लड़ रहे प्रत्याशियों के टारगेट पर हैं.’ सूत्रों का कहना है कि पांच राज्यों में लगभग 300 विधानसभा सीट ऐसी हैं जहां से यह सूचना मिल रही है कि राजनीतिक दल और निर्दलीय प्रत्याशी लोगों के घर वोट मांगने पहुंच रहे हैं और साथ ही उन्हे आर्थिक मदद करने की पेशकश भी कर रहे हैं. कई जगहों से यह सूचना भी है कि लोगों को पैसे बांटे जा रहे हैं.

इस सूचना के बाद आयोग ने उन विधानसभा सीटों को आर्थिक लेन-देन के लिहाज से संवेदनशील घोषित कर दिया है. आयोग ने अपने आर्थिक पर्यवेक्षकों से कहा है कि वह इन विधानसभा सीटों पर पैनी नजर रखें और कार्यवाई करें. विदित हो कि आयोग लोकसभा और विधानसभा चुनाव के दौरान कुछ सीटों को लेन-देन के लिहाज से संवेदनशील घोषित करता रहा है, लेकिन इस श्रेणी में दहाई के आंकड़े में ही सीटें होती हैं. यह पहली बार है जब इनता आंकड़ा तिहाई की श्रेणी में पहुंच गया है. जिन पांच राज्यों में चुनाव हो रहे हैं वहां संवेदनशील सूची में पहले नंबर पर पुद्दुचेरी तो दूसरे नंबर पर तमिलनाडु है. पश्चिम बंगाल तीसरे, असम चौथे और केरल पाचवें स्थान पर है.

***

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें