scorecardresearch
 

कर्नाटक भाषणः पीएम नरेंद्र मोदी के निशाने पर रहे राहुल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मजाकिए लहजे में कहा, राहुल चाहें तो 15 मिनट लगातार बिना किसी कागज का सहारा लिए किसी भी भाषा में 15 मिनट कर्नाटक सरकार की उपलब्धियों को गिना दें.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

कर्नाटक चुनाव में अभी तक मजा आया कहां था! भारत के चुनाव अपने अतरंगी-सतरंगी बयानबाजियों के लिए जाने जाते हैं और जैसी कि उम्मीद थी कर्नाटक के चुनावी अभियान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कूदते ही मामला दिलचस्प हो गया.

मंगलवार को कर्नाटक में चमराजनगर में अपनी पहली ही रैली में प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर ताबड़तोड़ हमले किए और राहुल गांधी को निशाने पर लिया. केंद्र सरकार की तमाम उपलब्धियां गिनाने के बाद रैली में मोदी ने राहुल पर हमला किया और कहा कि राहुल चाहें तो 15 मिनट लगातार बिना किसी कागज का सहारा लिए किसी भी भाषा में 15 मिनट कर्नाटक सरकार की उपलब्धियों को गिना दें.

उन्होंने बगैर नाम लिए सोनिया गांधी का भी जिक्र किया और कहा कि राहुल गांधी चाहे तो अपनी मम्मी की भाषा में भी बोल सकते हैं. उन्होंने मजाकिया लहजे में कहा कि राहुल गांधी अपने भाषण में पांच बार श्रीमान विश्‍वेश्‍वरैया बोलकर दिखाएं.

गौरतलब है कि 24 अप्रैल को संविधान बचाओ रैली में राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री को ललकारते हुए कहा था कि अगर उन्हें 15 मिनट संसद में बोलने का मौका दिया गया तो पीएम टिक नहीं पाएंगे.बहरहाल, मोदी की रैली की शुरुआत से ही बयानबाजियों का सिलसिला शुरु हो गया है.

कन्नड़ भाषा से शुरुआत

भारत माता की जय के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने कन्नड़ में सबका अभिवादन किया और रैली में भीड़ को संबोधित करते हुए कहा कि आपके भावी मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा मंच पर विराजमान हैं. भाजपा के उम्मीदवार ही कर्नाटक के भविष्य हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स का दिया हवाला

दिल्ली का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि दिल्ली में कर्नाटक की खबर आती रहती थी और खबर ये आती थी कि कर्नाटक में भाजपा की हवा चल रही है, लेकिन आज मैंने देखा कि यहां तो हवा नही आंधी चल रही है.

मजदूर दिवस की बधाई

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज गुजरात और महाराष्ट्र की स्थापना दिवस है और आज मजदूर दिवस भी है. ये मेहनतकश लोगों का दिन है. कामगारों ने देश को जिस बुलंदी पर पहुंचाया है, आज के दिन का श्रेय उनको समर्पित करना चाहता हूं.

गांव का बिजली कनेक्शन

प्रधानमंत्री ने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए देश के अंतिम गांव तक बिजली पहुंचाने का दावा करते हुए मणिपुर के सेनापति जिले के लिसांग गांव का नाम लिया और कहा 28 अप्रैल की तारीख देश के इतिहास में स्वर्णिम अक्षरों से अंकित हो गया है. पीएम ने कहा कि अब उनका अगला लक्ष्य हर घर को बिजली पहुंचाना होगा.

कांग्रेस पर सियासी हमला

कांग्रेस पर हमला करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष ने उन 18000 मजदूरों की हल्की सी तारीफ भी नहीं की, जिन्होंने गांवो में बिजली पहुंचाने का काम किया. उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री का जिक्र करते हुए कहा कि मनमोहन सिंह ने वादा किया था लेकिन पूरा नहीं किया, उनकी नहीं तो माताजी की बात तो मानते. राहुल काम नहीं करते, देश को गुमराह करते हैं. 46 मिनट के पूरे भाषण में प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस पर कई बार जमकर वार किए.

***

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें