scorecardresearch
 

ऊंचे और असरदारः ताकत बरकरार

सचिन पायलट के जरिए गहलोत सरकार के तख्तापलट की भाजपा की कोशिशों में उन्होंने पलीता लगा दिया. दरअसल, यह काम बिना उन्हें विश्वास में लिए किया जा रहा था

वसुंधरा राजे, 67 वर्ष पूर्व मुख्यमंत्री, राजस्थान वसुंधरा राजे, 67 वर्ष पूर्व मुख्यमंत्री, राजस्थान

क्योंकि सचिन पायलट के जरिए गहलोत सरकार के तख्तापलट की भाजपा की कोशिशों में उन्होंने पलीता लगा दिया. दरअसल, यह काम बिना उन्हें विश्वास में लिए किया जा रहा था.

अंतत: वह पार्टी के लिए शर्मिंदगी की वजह बना और राजे ने दिखा दिया कि वे अब भी प्रदेश में एक ऐसी ताकत हैं जिसकी अनदेखी नहीं की जा सकती

क्योंकि गजेंद्र सिंह शेखावत, जिन्हें राजे की जगह लेने के लिए तैयार किया जा रहा था, ने गलत तरीके से अपने पत्ते खेले और अगले विधानसभा चुनावों में उनके लिए पार्टी का नेतृत्व करना कठिन हो जाएगा, जब गहलोत उनके खिलाफ फोन टैपिंग मामला फिर से उठा देंगे.

भाजपा के पास तब राजे के अलावा और कोई विकल्प नहीं बच पाएगा

क्योंकि राजे राज्य भाजपा प्रमुख सतीश पूनिया और संगठन महासचिव चंद्र शेखर के साथ काम करने को राजी हैं बशर्ते वे खराब छवि वाले कुछ नेताओं के पर कतरें और उनके वफादारों को सम्मान दें

राज की बात: उनके भरोसेमंद नौकरशाह तब भी उनके संपर्क में रहते हैं जब वे सत्ता में नहीं होतीं

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें