scorecardresearch
 

सिनेमाः परदे पर अंधेरा

कोविड-19 की वजह से सिनेमा हॉल बंद होने के साथ ही फिल्म निर्माताओं और उद्योग को भारी नुक्सान की आशंका

प्रकाश शेट्टी, 45 वर्ष चीफ लाइटिंग टेक्निशियन, श्रीगणेश मूवी लाइट्स, मुंबई प्रकाश शेट्टी, 45 वर्ष चीफ लाइटिंग टेक्निशियन, श्रीगणेश मूवी लाइट्स, मुंबई

कोविड-19 महामारी की वजह से मनोरंजन उद्योग की पांच प्रमुख इकाइयों के 31 मार्च तक सभी फिल्मों और टीवी सीरीज की शूटिंग रोक देने से श्रीगणेश मूवी लाइट्स के प्रकाश शेट्टी खासी मुश्किल में फंस गए हैं.

वे शूटिंग के लिए लाइटिंग सामग्री मुहैया कराने वाले प्रमुख लोगों में से हैं. 12 घंटे की शिफ्ट में 2,000 रु. की दिहाड़ी पर काम करने वाला 70 लोगों का उनका स्टाफ अचानक सड़क पर आ गया है. शेट्टी बताते हैं, ''अगर शूट नहीं है तो स्पॉट बॉय से लेकर प्रोडक्शन तक किसी को चवन्नी न मिलेगी. निर्माताओं का बड़ा नुक्सान है.

उन्हें क्रू का बोरिया-बिस्तर बांधकर सारे उपकरण मुंबई भेजने होंगे.'' कुछ पता नहीं काम कब शुरू होगा. एहतियात में कई राज्यों के सिनेमाघर बंद कर देने से स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्मों के लिए सुनहरा मौका है. उन्हें उम्मीद है कि घर से काम करने वाली बिरादरी उनकी सामग्री को पसंद करेगी.

***

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें