scorecardresearch
 

समाचार सारः शराब का झगड़ा

'गलत आबकारी नीति' को लेकर कहासुनी के कारण अमरिंदर सिंह को अपने मुख्य सचिव करण अवतार सिंह को 11 मई को कैबिनेट बैठक से बाहर बैठने के लिए कहना पड़ा

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को अपने मुख्य सचिव (सीएस) करण अवतार सिंह को 11 मई को कैबिनेट बैठक से बाहर बैठने के लिए कहना पड़ा क्योंकि तीन खास मंत्रियों मनप्रीत बादल, चरणजीत सिंह चन्नी और तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा का कहना था कि मुख्य सचिव अगर बैठक में रहे तो वे उसमें हिस्सा नहीं लेंगे.

पिछले हफ्ते इन तीनों मंत्रियों की मुख्य सचिव के साथ राज्य की 'गलत आबकारी नीति' को लेकर कहासुनी हुई थी.

शराब कारोबार में अवतार सिंह के बेटे के हित जुड़े होने के भी आरोप लगाए गए थे. नतीजा: इसका हल निकलने तक पंजाब में शराब की बिक्री दोबारा बंद हो गई है.

***

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें