scorecardresearch
 

समाचार सारः सांस लेने की फुर्सत नहीं

अमित शाह के पास सांस लेने की भी फुर्सत नहीं थी, उनके पास इतना भी समय नहीं था कि वे हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से मिल सकें

चंद्रदीप कुमार चंद्रदीप कुमार

इंडिया टुडे

महाराष्ट्र में राजनैतिक संकट और अयोध्या पर फैसले के बीच गृह मंत्री और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के पास सांस लेने की भी फुर्सत नहीं थी.

उनके पास इतना भी समय नहीं था कि वे हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से मिल सकें, जिन्होंने राज्य में कैबिनेट विस्तार पर चर्चा करने के लिए शाह के साथ बैठक की उम्मीद में पांच दिन से राष्ट्रीय राजधानी में डेरा डाला हुआ था.

अंत में दोनों की मुलाकात 11 नवंबर को हो पाई और तब कहीं 14 नवंबर को मंत्रिमंडल विस्तार के बारे में फैसला हो पाया.

***

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें