scorecardresearch
 

हेल्थगीरी अवार्डः कोविड योद्धाओं को सलाम

कोविड-19 महामारी के खिलाफ देश की लड़ाई में आगे बढ़कर भूमिका निभाने वाले योद्धाओं का सम्मान.

योद्धाओं का सम्मान इंडिया टुडे ग्रुप के चेयरमैन और एडिटर इन चीफ अरुण पुरी योद्धाओं का सम्मान इंडिया टुडे ग्रुप के चेयरमैन और एडिटर इन चीफ अरुण पुरी

असाधारण परिस्थितियां असाधारण प्रतिक्रियाओं की मांग करती हैं. और हमारे स्वास्थ्य सेवाकर्मियों ने कोविड की चुनौती का सामना जितनी बहादुरी से किया है उतना किसी और ने नहीं. लिहाजा, इंडिया टुडे सफाईगीरी पुरस्कारों का छठा संस्करण इन फ्रंटलाइन (मोर्चे पर सबसे आगे खड़े) योद्धाओं को समर्पित है.

महामारी के खिलाफ लड़ाई में पथ-प्रदर्शक रहे व्यक्तियों और संस्थानों के सम्मान में और कृतज्ञता जताते हुए इस बार, इसे 'हेल्थगीरी अवॉर्ड’ का नाम दिया गया. महात्मा गांधी की जयंती के मौके पर एक ऑनलाइन कार्यक्रम में 10 श्रेणियों में 11 संस्थानों और शक्चिसयतों को पुरस्कृत किया गया.  

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक लिखित संदेश में इन योद्धाओं की महत्वपूर्ण भूमिका को रेखांकित करते हुए कहा कि इस तरह के संकट के दौरान आम लोगों के प्रति ऐसा सेवा भाव, विशेष सम्मान का हकदार है. उन्होंने लिखा, ''इस तरह के परिदृश्य में फ्रंटलाइन योद्धाओं के रूप में हमारे स्वास्थ्य सेवाकर्मियों का अनुकरणीय कार्य कहीं ज्यादा आदर का पात्र हो जाता है.

क्योंकि उन्होंने मानवता के जिन गहरे मूल्यों का परिचय दिया है, वह हर किसी को चुनौतियों को मात देकर आगे बढऩे को प्रेरित करता है.’’ उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि मास्क पहनना, सामाजिक दूरी को बनाए रखना, साफ-सफाई का ध्यान रखना, हाथ धोना और खुद इन बातों का अनुकरण करके दूसरों को प्रेरित करना ही वायरस को हराने के हमारा सबसे कारगर हथियार है. 

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने भी अपने संबोधन में इन बातों को दोहराया. उन्होंने चेताया कि कोविड-19 को लेकर दी गई जरूरी सलाहों के पालन में यदि लापरवाही बरती गई तो यह लड़ाई अधिक कठिन हो जाएगी. उन्होंने कहा कि फेस मास्क वायरस के खिलाफ अच्छा रक्षा कवच साबित हुआ है.

स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के काम की सराहना करते हुए उन्होंने कहा, ''हम अब देश को फिर से खोल रहे हैं, लेकिन देखा गया है कि बहुत से लोग कोविड को लेकर सरकारी दिशानिर्देशों के पालन में लापरवाही बरत रहे हैं. चेहरे पर लगा मास्क हमारी सबसे बड़ी सुरक्षा है. हमें यह याद रखना चाहिए कि दो गज की दूरी बनाए रखकर, हाथ को लगातार धोते रहने और साफ-सफाई से ही कोरोना को काबू में रखा जा सकता है.’’ 

अपने स्वागत भाषण में, इंडिया टुडे ग्रुप के चेयरमैन और एडिटर इन चीफ अरुण पुरी ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में प्रत्येक क्षेत्र के योगदान की प्रशंसा की. उन्होंने कहा कि निजी और सार्वजनिक दोनों ही तरह के अस्पतालों ने एकजुट होकर कोविड से मुकाबला करने के लिए खुद को चंद दिनों के भीतर तैयार कर लिया. राष्ट्रीय संस्थानों ने निदान और परीक्षण के प्रोटोकॉल तैयार किए और उनमें समय-समय पर संशोधन किए.

लगातार बदलते हालात के प्रति सचेत सरकारी संस्थाओं ने पूरे देश में दवाओं, वेंटिलेटर और अन्य उपकरणों को पहुंचाने की जिक्वमेदारी बखूबी निभाई. उद्यमी कंपनियों ने स्वदेशी जांच किट और चिकित्सा उपकरण विकसित किए जिनकी लागत आयात के मुकाबले बहुत कम थी. गैर-सरकारी संगठनों ने जरूरतमंदों को भोजन देने के साथ मास्क और सैनिटाइजर बनाने तक, कई तरह से योगदान दिया. उन्होंने कहा, ''ऐसा उल्लेखनीय योगदान देने वाले लोगों और संस्थानों को, जब वे अपने काम में जुटे थे, शायद ही उम्मीद रही हो कि उनके काम को पहचाना और सराहा जाएगा.’’ 

पुरस्कार के विजेताओं ने सक्वमान के लिए आभार व्यक्त किया और समाज के हित के लिए काम जारी रखने का संकल्प जताया.
निर्णायक
अनु आगा, पूर्व सदस्य, राज्यसभा
मनीष सभरवाल, चेयरमैन, टीमलीज सर्विसेज
डॉ. श्रीनाथ रेड्डी, प्रेसिडेंट, पब्लिक हेल्थ फाउंडेशन ऑफ इंडिया
डॉ. देवी शेट्टी, चेयरमैन और एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर,    
नारायणा हेल्थ, डॉ. नरेश त्रेहन, चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर, मेदांता
डॉ. गगनदीप, कंग वैक्सीन एक्सपर्ट
डॉ. स्वाति, पीरामल, उपाध्यक्ष पीरामल ग्रुप
अरुण पुरी, चेयरमैन और एडिटर इन चीफ, इंडिया टुडे ग्रुप

विजेता
सर्वश्रेष्ठ राज्यः केरल
सर्वश्रेष्ठ सरकारी अस्पतालः एम्स, दिल्ली
सर्वश्रेष्ठ निजी अस्पतालः मेदांता हॉस्पिटल, गुरुग्राम और मैक्स स्मार्ट सुपर स्पेशिएलिटी हॉस्पिटल, साकेत, (नई दिल्ली)
सर्वश्रेष्ठ धर्मार्थ अस्पतालः सीएमसी, वेल्लूर
सामाजिक असर के लिए सर्वश्रेष्ठ कॉर्पोरेट योगदानः रिलायंस फाउंडेशन
सर्वश्रेष्ठ टेस्टिंग केंद्रः राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान, पुणे
प्रवासी श्रमिकों को समय पर सहायता पहुंचाने वाला सर्वश्रेष्ठ एनजीओः राष्ट्रीय सेवा भारती
सर्वश्रेष्ठ नवाचारः माइलैब डिस्कवरी सॉल्यूशंस
सर्वश्रेष्ठ बुनियादी सेवा प्रदाताः डाक विभाग, संचार मंत्रालय
सराहनीय कार्य करने वाले सर्वश्रेष्ठ सेलेब्रिटीः सोनू सूद, अभिनेता

''फेस मास्क हमारे सबसे बड़े रक्षक हैं लेकिन कोरोना वायरस से खुद को बचाने के लिए दो गज की दूरी बनाए रखने की बात हमें अपने दिमाग में बैठाकर रखनी होगी’’
डॉ. हर्षवर्धन, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री
 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें