scorecardresearch
 
डाउनलोड करें इंडिया टुडे हिंदी मैगजीन का लेटेस्ट इशू सिर्फ 25/- रुपये में

शख्सियतः अपनी जिंदगी का ऐंकर

नेटफ्लिक्स पर आई नई फिल्म धमाका में कार्तिक आर्यन एक अलग अंदाज वाले न्यूज ऐंकर के किरदार में हैं. और उनके मुताबिक, असल जिंदगी में वे एक ऐसे दौर में हैं जहां उनका मनचाहा सब कुछ उन्हें मिल रहा है.

कार्तिक आर्यन कार्तिक आर्यन

नेटफ्लिक्स पर आई नई फिल्म धमाका में कार्तिक आर्यन एक अलग अंदाज वाले न्यूज ऐंकर के किरदार में हैं. और उनके मुताबिक, असल जिंदगी में वे एक ऐसे दौर में हैं जहां उनका मनचाहा सब कुछ उन्हें मिल रहा है.

धमाका एक ऐसे टीवी न्यूज ऐंकर पर केंद्रित है जिसके साथ खड़े हो पाना मुश्किल है. ग्रे शेड वाला यह किरदार आपको पसंद आया?

वह बहुत प्यारा किरदार नहीं है, यह बात मुझे पसंद आई थी. वह नितांत मौकापरस्त बंदा है, जो अपनी ही धुन में पागल है. वह बस वहां पहुंचना चाहता है. कुछ हालात उसने बनाए और कुछ बन जाते हैं. नैतिकता इस बंदे के लिए कोई मूल्य नहीं. वह आपको खुद पर सवाल करने को मजबूर करता है.

आप टीवी न्यूज देखते हैं?

परिवार वाले, खासकर मेरे पापा हिंदी न्यूज चैनल बड़ी शिद्दत से देखते हैं. लॉकडाउन के दौरान मैंने भी काफी देखा. मैंने नोटिस किया है कि पत्रकारिता बड़ी जिम्मेदारी वाला काम है. मुझे लगता है, बतौर ऐक्टर मैं बहुत काम करता हूं लेकिन पत्रकार तो 2437  काम पर रहते हैं. और अक्सर ही अपनी जाती जिंदगी तो पीछे रखकर. इस बात का मैं बहुत सम्मान करता हूं.

इस रोल के लिए कैसे तैयारी की. आपके पास कोई संदर्भ था?

उस दुनिया के भीतर के पहलू जानने के लिए मैंने कई सारे ऐंकर्स, रिपोर्टर्स और रेडियो जॉकी से बातचीत की. मुद्दा यह होता कि कुछ मामलों को उन्होंने कैसे कवर किया, वे क्या सोचते हैं, क्या बोलते और क्या नहीं बोलते हैं. हालांकि धमाका टीवी न्यूज इंडस्ट्री पर नहीं बल्कि वह तो पूरी जिंदगी पर केंद्रित है.

धमाका और आपकी आने वाली फिल्मों से लगता है कि अब आप उस रोमांटिक कॉमेडी से आगे निकलना चाहते हैं जिसने आपको पॉपुलर बनाया.

मेरा ध्यान अपने काम पर है. बेशक अटेंशन मिलना अच्छा लगता है पर मैं चाहता हूं कि वह मेरे काम पर ही रहे. मेरे ख्याल से मेरी फिल्मों से यह बात जाहिर हो जाती है, चाहे वह हंसल मेहता के साथ हो या शशांक घोष के साथ.

फिल्मकार मुझमें भरोसा जता रहे हैं. मैं कैंडी शॉप में जा पहुंचे बच्चे की तरह हूं. वह जिस पर भी उंगली रख  रहा है, उसे मिल रहा है. अब भला मुझे क्या शिकायत होगी!

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×