scorecardresearch
 

आवरण कथा

अदिति नायर, मुख्य अर्थशास्त्री, आइसीआरए

आवरण कथाः अर्थव्यवस्था बहाली का बेहतरीन नुस्खा

10 जून 2021

कोविड की दूसरी लहर ने देश की आर्थिक बहाली की नाजुक डोर पीछे खींच ली, बोर्ड  ऑफ इंडिया टुडे इकोनॉमिस्ट्स का नजरिया कि कैसे लौटेगी गाड़ी पटरी पर.

अचानक ठप्प 1 जून को मुंबई में सिले-सिलाए वस्त्रों का थोक बाजार मंगलदास मार्केट

आवरण कथाः आखिर कैसे रफ्तार पकड़े अर्थव्यवस्था

10 जून 2021

कोविड की दूसरी घातक लहर ने पहले से लहूलुहान अर्थव्यवस्था की चूलें हिला दीं, उपभोक्ताओं का भरोसा, उद्योग-धंधों और रोजी-रोजगार की बहाली के लिए अब असाधारण नजरिए और कदमों की दरकार.

आद्विक मित्तल, 17 वर्ष    कक्षा 12 (कॉमर्स छात्र) बाल भारती पब्लिक स्कूल, पीतमपुरा, दिल्ली

आवरण कथाः कोविड पीढ़ी के बोझिल कंधे

03 जून 2021

स्कूली और सामाजिक जिंदगी पूरी तरह से ऑनलाइन हुई और आमने-सामने की बात-मुलाकात भी करीब-करीब शून्य, ऐसे में भारत के बच्चों पर बहुत बुरी बीत रही.

कोविड की जानलेवा दूसरी लहर ने खौफ और ‌चिंता की एक नई महामारी को जन्म दिया

आवरण कथाः अनहोनी की आशंका

02 जून 2021

कोविड की जानलेवा दूसरी लहर ने खौफ और ‌चिंता की एक नई महामारी को जन्म दिया है. लोग अपने प्राण खोने, प्रियजनों के हमेशा के लिए साथ छोड़ जाने, अकेले रह जाने और नौकरी/रोजगार आदि छिन जाने जैसे अंदेशों से खासे दहशत में हैं. चिंता और व्यग्रता ने इस संकट में मानसिक संत्रास से जुड़े नए पहलू लाकर जोड़ दिए हैं

महामारी के मसीहा

आवरण कथाः स्वयंसेवा का गणतंत्र

28 मई 2021

महामारी के मसीहा जो सरकारी बेरुखी और कोविड से जूझ रहे अपने साथी नागरिकों की ओर मदद का हाथ बढ़ा रहे हैं.

हवाई रखवाले भारत के लिए सिंगापुर में ऑक्सीजन कंटेनर लादता भारतीय वायु सेना का सी-17 ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट

आवरण कथाः सैन्य के इस्तेमाल पर असमंजस

20 मई 2021

वायरस के खिलाफ लड़ाई में सशस्त्र बल आगे आए, पर सरहदों पर तनातनी को देखते हुए वे मौजूदा काम को शायद बढ़ा नहीं पाएंगे.

जरा तेज दिल्ली के बीएलके हॉस्पिटल में 10 मई को टीकाकरण का एक दृश्य

आवरण कथाः टीकाकरण का अंधियारा

20 मई 2021

देर से टीकों के अधिक उत्पादन और उन्हें हासिल करने की हड़बड़ी के बावजूद देश का टीकाकरण अभियान टीकों की भारी किल्लत से मुकाबिल, खतरनाक दूसरी लहर से पस्त हर कोई अब टीका लगाना चाहता है लेकिन इतने टीके उपलब्ध ही नहीं.

अब क्या करूं दिल्ली में 8 मई को कोविड से एक परिजन की मृत्यु पर शोक करती एक महिला

आवरण कथाः कब खत्म होगी यह तबाही?

20 मई 2021

देश के शीर्ष विशेषज्ञ इस बात का आकलन कर रहे हैं कि रौंदने पर उतारू कोविड-19 की इस दूसरी लहर को आखिर किस तरह से रोका जा सकता है.

कारोबार पर ग्रहण 1 मई को सप्ताहांत लॉकडाउन के कारण बंद गाजियाबाद का चौपला मार्केट

आवरण कथाः लॉकडाउन से उपजी दुश्वारियां

18 मई 2021

दूसरी लहर में राज्यों के तय किए नपे-तुले लॉकडाउनों से आर्थिक नुक्सान भले ही सीमित हो गया हो, पर जरूरी चीजों को छोड़कर बाकी की उपभोक्ता मांग पर भारी असर की आशंका.

धर्म की जय हो महा शिवरात्रि पर 11 मार्च को कुंभ मेले में स्‍नान करते भक्त

आवरण कथाः आखिर कहां है राज्य

14 मई 2021

सरकार ने तो खैर अपनी जिम्मेदारी निभाने में नाकाम रहते हुए भी सियासी लाभ हासिल करने पर ध्यान केंद्रित रखा, लेकिन न्यायपालिका और चुनाव आयोग से भी इससे ज्यादा की भूमिका भी अपेक्षा थी.

कमान यहां से मुंबई के एक कोविड वार रूम में डॉन्न्टर और मेडिकल छात्र लोगों की कॉल लेते हुए

आवरण कथाः जरूरत है एक अदद वॉर रूम की

14 मई 2021

कोविड के खिलाफ लड़ाई में यह बात साफ हुई कि हम इसमें टेक्नॉलोजी का कोई कारगर राष्ट्रीय समाधान न खोज सके.