scorecardresearch
 

'तमिलनाडु ने चुपचाप मजबूत काम किया है'

मुख्यमंत्री ई. के. पलानीस्वामी बता रहे हैं कि राज्य ने लगातार इतना अच्छा काम कैसे किया. अमरनाथ के. मेनन के साथ उनकी बातचीत के अंश:

चंद्रदीप कुमार चंद्रदीप कुमार

तमिलनाडु ने इतना अच्छा काम कैसे किया?

हमारी दिवंगत मुख्यमंत्री जे. जयललिता ने ही तमिलनाडु की ऊंची वृद्धि का रास्ता तय कर दिया था. मेरे मंत्रिमंडल ने ऐसी आर्थिक रणनीति पर जोर दिया जिसमें नौकरियों का सृजन करने वाले उद्योगों को बढ़ावा मिले. हमने मानव संसाधनों में निवेश किया और स्वास्थ्य तथा शिक्षा क्षेत्रों में अच्छे नतीजे पाने पर ध्यान दिया. पर्यटन बुनियादी ढांचे में ठोस निवेश की वजह से फला-फूला और इसलिए भी कि राज्य अमन-चैन की जन्नत है. कानून-व्यवस्था हमारे लिए शीर्ष प्राथमिकता है. तमिलनाडु ने चुपचाप रहकर मजबूत काम किया है; आश्चर्य नहीं कि हम शीर्ष पर उभरकर आए हैं.

तमिलनाडु के आगे चुनौतियां क्या हैं?

प्राकृतिक आपदाएं, नौकरियों का सृजन, आर्थिक वृद्धि में सुधार व प्राथमिक क्षेत्र में स्थिरता लाना.

वे प्रमुख कारक कौन-से हैं जिनसे कारोबार यहां खिंचा चला आता है?

निवेशकों का भरोसा और विश्वास कायम करना, शानदार बंदरगाहों और रोड कनेक्टिविटी के साथ मजबूत बुनियादी ढांचा, कुशल कार्यबल, औद्योगिक विकास के लिए शानदार ईकोसिस्टम और विशाल बाजार. इसके साथ बिना रुकावट के लगातार अच्छी बिजली आपूर्ति.

क्या कोई ऐसा क्षेत्र भी है जिसमें राज्य पिछड़ रहा है?

नहीं, ऐसा कोई क्षेत्र नहीं है. नीति आयोग के नवाचार सूचकांक में तमिलनाडु दूसरे नंबर पर था. खासकर जनवरी में आयोजित ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट के बाद हमने सभी क्षेत्रों, मसलन आइटी, इलेक्ट्रॉनिक्स, ऑटोमोबाइल्स, और इलेक्ट्रिक वाहनों के निर्माण सरीखे उदीयमान क्षेत्रों में भी नए निवेश देखे हैं. हाल ही में मैं ब्रिटेन, अमेरिका और यूएई गया था. वहां निवेशकों की तरफ से जबरदस्त प्रतिक्रिया मिली.

क्या सरकार पर पर्यावरण लॉबियों का कोई दबाव है?

ऐसी कोई बात नहीं है. हमारा जोर टिकाऊ औद्योगिकीकरण पर है. तमिलनाडु भारत का 'सूत का कटोरा' और 'चमड़े की राजधानी' है और रासायनिक उत्पादों का अग्रणी उत्पादक भी. इन क्षेत्रों में हम हजारों उद्योग पर्यावरण मानकों का पालन करते हुए सफलता से काम कर रहे हैं.

निवेश पाने के लिए आप फिर यात्रा पर जाने वाले हैं.

राज्य में निवेश बढ़ाने के लिए मैं अगले वर्ष इज्राएल जाऊंगा. वहां मैं रिसाइक्लिंग, जल संरक्षण की नई तकनीक और कृषि में ऊंची टेक्नोलॉजी का प्रयोग देखूंगा.

हाल के दो विधानसभा उपचुनावों में एआइएडीएमके की जीत का क्या महत्व है?

यह एआइएडीएमके और हमारी सरकार में लोगों का भरोसा तथा हमारी कई कल्याणकारी योजनाओं की सफलता बताता है.

***

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें