scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: पेट्रोल की कीमतों में लगी आग के बीच राजनाथ-आडवाणी की पुरानी तस्वीरें वायरल

क्या पेट्रोल की बढ़ती कीमतों और महंगाई के विरोध में देश के रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और वरिष्ठ भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी ने अपनी ही सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है? सोशल मीडिया पर तो कुछ लोगों का यही कहना है. ऐसा कहने वाले लोग इन नेताओं की दो तस्वीरें भी शेयर कर रहे हैं.

सोशल मीडिया में वायरल तस्वीर सोशल मीडिया में वायरल तस्वीर

क्या पेट्रोल की बढ़ती कीमतों और महंगाई के विरोध में देश के रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और वरिष्ठ भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी ने अपनी ही सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है? सोशल मीडिया पर तो कुछ लोगों का यही कहना है. ऐसा कहने वाले लोग इन नेताओं की दो तस्वीरें भी शेयर कर रहे हैं.

पहली तस्वीर में राजनाथ सिंह एक तख्ती पकड़कर सड़क पर बैठे हैं, जिस पर लिखा है, ‘पेट्रोल डीजल के बढ़े दाम वापस लो-वापस लो.’उनके आसपास बैठे कुछ लोगों ने नारे लगाने के अंदाज में हाथ ऊपर किए हुए हैं. साथ ही, इस फोटो में लिखा है, ‘पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ राजनाथ सिंह ने किया जोरदार प्रदर्शन, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने सरकार के खिलाफ बगावती तेवर अख्तियार किए.’

इस फोटो को शेयर करते हुए एक यूजर ने लिखा, “पेट्रोल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ श्री राजनाथ सिंह जी का प्रदर्शन!” 

इस पोस्ट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है. 

दूसरी तस्वीर में लालकृष्ण आडवाणी ने अपने कपड़ों पर गुलाबी रंग का एक बैनर लगाया हुआ है, जिस पर सफेद अक्षरों में लिखा है, ‘महंगाई हटाओ या गद्दी छोड़ो.’

इसे शेयर करते हुए एक फेसबुक यूजर ने कैप्शन लिखा, “आडवानी जी यह क्या कर रहे है”.

इस पोस्ट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है.

ये दोनों तस्वीरें ऐसे समय में शेयर की जा रही हैं, जब देश के कुछ शहरों में पेट्रोल की कीमत प्रति लीटर 100 रुपये के पार जा चुकी है.

इंडिया टुडे के एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने पाया कि सोशल मीडिया पर विरोध-प्रदर्शन करते हुए राजनाथ सिंह और लालकृष्ण आडवाणी की जो तस्वीरें शेयर की जा रही हैं, वे कई साल पुरानी हैं. हाल-फिलहाल में उन्होंने महंगाई या पेट्रोल की कीमतों को लेकर कोई प्रदर्शन नहीं किया है.

बहुत सारे लोग इन तस्वीरों को ‘#AbkiBaarLooteriSarkar’ और ‘#petrolprice’ जैसे हैशटैग्स के साथ शेयर कर रहे हैं. एक ट्विटर यूजर ने राजनाथ और आडवाणी की इन वायरल तस्वीरों को शेयर करते हुए लिखा, “बढ़ती हुई महंगाई ओर 100 के पार पेट्रोल डीजल की आसमान छूती कीमतों को देखते हुवे अब तो बेचारे आडवाणी और राजनाथ जी भी सड़क पर उतर आए.”

बहुत सारे लोग इस बात को लेकर संशय में हैं कि ये तस्वीरें नई हैं या पुरानी.

एक-एक कर इन दोनों तस्वीरों की सच्चाई जानते हैं.

राजनाथ सिंह की फोटो का सच

पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोत्तरी के खिलाफ ये विरोध-प्रदर्शन राजनाथ सिंह ने साल 2014 से पहले किया था.

राजनाथ की प्रदर्शन करने वाली फोटो को जब हमने रिवर्स सर्च किया, तो ये हमें ‘नेशनल हेराल्ड’ की साल 2020 की एक रिपोर्ट में मिली. यहां इस फोटो के साथ कैप्शन लिखा है, “साल 2014 से पहले ईंधन के दामों में बढ़ोत्तरी के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन करते राजनाथ सिंह”. 

‘लोकमत’ वेबसाइट ने भी इस फोटो को साल 2018 की एक रिपोर्ट में शामिल किया था. यहां इस फोटो के साथ मराठी भाषा में कैप्शन लिखा है, जिसका हिंदी अनुवाद है, “वर्तमान में पेट्रोल की कीमत 90 रुपये से अधिक हो गई है. भाजपा के केंद्रीय मंत्री कह रहे हैं कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों के कारण पेट्रोल और डीजल की कीमतें कम करना सरकार के हाथ में नहीं है. हालांकि, यही नेता आंदोलन कर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करते थे, जब पेट्रोल की कीमत 75 रुपये के आसपास थी.”

राजनाथ सिंह ने ये धरना प्रदर्शन किस दिन किया था, इसे लेकर हम पक्के तौर पर कुछ नहीं कह सकते, लेकिन एक बात तय है कि ये कई साल पुरानी फोटो है.

आडवाणी की फोटो की हकीकत
महंगाई के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन करते हुए लालकृष्ण आडवाणी की फोटो को रिवर्स सर्च करने पर हमें ‘द टाइम्स ऑफ इंडिया’ की 26 अप्रैल 2008 की एक रिपोर्ट में यही फोटो मिली. यहां इसके साथ कैप्शन लिखा है, ‘नई दिल्ली स्थित संसद भवन के बाहर भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार लालकृष्ण आडवाणी (बीच में) और एनडीए सांसद’.

आडवाणी के 2008 के इस विरोध-प्रदर्शन की एक फोटो हमें टाइम्स समूह की वेबसाइट ‘टाइम्स कंटेंट’ पर भी मिली. यहां मौजूद तस्वीर में भी आडवाणी ने वायरल फोटो जैसा ही गुलाबी रंग का ‘महंगाई हटाओ या गद्दी छोड़ो’ टैगलाइन वाला बैनर अपने कपड़ों पर लगा रखा है.

अगर राजनाथ सिंह या आडवाणी ने सचमुच वर्तमान सरकार के खिलाफ पेट्रोल के दामों में बढ़ोत्तरी या महंगाई को लेकर विरोध प्रदर्शन किया होता, तो इस बारे में सभी प्रमुख मीडिया वेबसाइट्स पर खबरें छपी होतीं. हमें ऐसी कोई भी रिपोर्ट नहीं मिली जिसमें इन नेताओं के हाल-फिलहाल में विरोध-प्रदर्शन करने का जिक्र हो.

जाहिर है कि राजनाथ सिंह और लालकृष्ण आडवाणी की विरोध-प्रदर्शन करने की पुरानी तस्वीरों को अभी का बताते हुए शेयर किया जा रहा है, जिससे लोगों में भ्रम फैल रहा है. (सोनाली खट्टा के इनपुट के साथ)

फैक्ट चेक

सोशल मीडिया यूजर्स

दावा

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों और वरिष्ठ भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी ने बढ़ती महंगाई का विरोध करते हुए अपनी ही सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया.

निष्कर्ष

राजनाथ सिंह और लालकृष्ण आडवाणी की जो तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हैं, वो कई साल पुरानी हैं. हाल-फिलहाल में उन्होंने पेट्रोल की बढ़ती कीमतों या महंगाई के विरोध में कोई धरना प्रदर्शन नहीं किया है.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
सोशल मीडिया यूजर्स
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें