scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: दिग्विजय ने नहीं लिखी राहुल गांधी को लेकर ये बेतुकी बात, फेसबुक ट्रांसलेशन से फैला भ्रम

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही पोस्ट में दिख रहा है कि दिग्विजय सिंह ने अंग्रेजी में लिखा है, "Shri Rahul Gandhi stands with the family of Shri Ahmed Patel ji at his last rites in Gujarat." इसके बाद उन्होंने यही बात हिंदी में बताते हुए लिख दिया, "राहुल गांधी गुजरात में 'अपने' अंतिम संस्कार पर श्री अहमद पटेल जी के परिवार के साथ खड़े हैं."

दिग्विजय सिंह की पोस्ट. दिग्विजय सिंह की पोस्ट.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल के अंतिम संस्कार में राहुल गांधी सहित पार्टी के कई बड़े नेता गुजरात पहुंचे थे. इसी को लेकर सोशल मीडिया पर एक स्क्रीनशॉट वायरल होने लगा. इसके जरिए लोग कांग्रेस नेता और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह का मजाक उड़ाने लगे. देखने में लग रहा है कि दिग्विजय सिंह ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट साझा की, जिसमें उन्होंने अहमद पटेल की अंत्येष्टि में राहुल गांधी के पहुंचने का जिक्र किया था.

स्क्रीनशॉट में दिख रहा है कि दिग्विजय सिंह ने अंग्रेजी में लिखा है, "Shri Rahul Gandhi stands with the family of Shri Ahmed Patel ji at his last rites in Gujarat." इसके बाद उन्होंने यही बात हिंदी में बताते हुए लिख दिया, "राहुल गांधी गुजरात में 'अपने' अंतिम संस्कार पर श्री अहमद पटेल जी के परिवार के साथ खड़े हैं."

स्क्रीनशॉट में एक तस्वीर भी है जिसमें राहुल गांधी कुछ लोगों के साथ कहीं जाते हुए दिख रहे हैं. सोशल मीडिया पर कुछ यूजर्स का कहना है कि अंतिम संस्कार वाली बात दिग्विजय सिंह ने लिखी है.
 

Viral Post

इंडिया टुडे एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने पाया वायरल पोस्ट भ्रामक है. दिग्विजय सिंह ने राहुल गांधी के अंत्येष्टि में पहुंचने वाली बात सिर्फ अंग्रेजी में लिखी थी, जिसमें कोई गलती नहीं है. स्क्रीनशॉट में हिंदी में लिखी बेतुकी लाइन फेसबुक द्वारा किए गए गलत अनुवाद की वजह से दिख रही है.

इस भ्रामक पोस्ट को फेसबुक और ट्विटर पर कई लोगों ने शेयर किया है. पोस्ट का आर्काइव यहां देखा जा सकता है. इस गलत अनुवाद के बारे दिग्विजय सिंह ने खुद भी फेसबुक पर जानकारी दी है. दिग्विजय ने बताया है कि फेसबुक ने उनके एक पोस्ट के कैप्शन का गलत अनुवाद किया है और वो इस पोस्ट को डिलीट कर रहे हैं. गलत अनुवाद वाले पोस्ट का उन्होंने एक स्क्रीनशॉट भी शेयर किया है.

फेसबुक ने गूगल ट्रांसलेशन के माध्यम से मेरे द्वारा लिखे गए टेक्स्ट का गलत अनुवाद किया है। मेरी इस तरह के त्रुटिपूर्ण अनुवाद पर आपत्ति है जिसकी मैं शिकायत कर रहा हूँ और इस पोस्ट को डिलीट कर रहा हूँ।

Posted by Digvijaya Singh on Thursday, 26 November 2020

दरअसल फेसबुक, किसी पोस्ट में लिखे कैप्शन को चुनी गई भाषा के मुताबिक अपने आप ट्रांसलेट कर देता है. फेसबुक में ट्रांसलेशन आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मदद से होता है. ये ट्रांसलेशन एकदम सही हो, ऐसा जरूरी नहीं है. कभी इससे अर्थ का अनर्थ भी हो जाता है. दिग्विजय सिंह की पोस्ट के साथ भी यही हुआ, जहां फेसबुक ने अंग्रेजी का कैप्शन हिंदी में गलत ट्रांसलेट कर दिया. फेसबुक ये ट्रांसलेशन यूजर की लैंग्वेज सेटिंग्स के अनुसार ही करता है.

हमने पाया कि अनुवाद की ये गलती ऐसी ही कुछ और पोस्ट में भी दिख रही है. गुरुवार को पंजाब यूथ कांग्रेस ने भी राहुल गांधी को लेकर दिग्विजय सिंह जैसी एक फेसबुक पोस्ट शेयर की थी. इस पोस्ट में भी अंग्रेजी कैप्शन का गलत हिंदी अनुवाद देखा जा सकता है.

Social Media Post

दिग्विजय ने पोस्ट में अंग्रेजी में जो कैप्शन लिखा था उसका सही हिंदी अनुवाद कुछ इस तरह होगा, "श्री राहुल गांधी गुजरात में श्री अहमद पटेल जी के अंतिम संस्कार में उनके परिवार के साथ खड़े हैं." ये बात दिग्विजय सिंह ने भी एक दूसरी फेसबुक पोस्ट  के जरिये साफ की है.

यहां इस बात की पुष्टि हो जाती है कि दिग्विजय सिंह ने राहुल गांधी को लेकर अंतिम संस्कार वाली बात नहीं लिखी थी. ऐसा फेसबुक के गलत हिंदी अनुवाद की वजह से दिख रहा है.

फैक्ट चेक

सोशल मीडिया यूजर्स

दावा

दिग्विजय सिंह ने फेसबुक पर लिखा कि "राहुल गांधी गुजरात में 'अपने' अंतिम संस्कार पर श्री अहमद पटेल जी के परिवार के साथ खड़े हैं."

निष्कर्ष

स्क्रीनशॉट में हिंदी में लिखी लाइन फेसबुक द्वारा किए गए गलत हिंदी अनुवाद की वजह से दिख रही है. दिग्विजय सिंह ने ऐसा कुछ नहीं लिखा था. इस बात को खुद दिग्विजय सिंह ने भी पुख्ता किया है.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
सोशल मीडिया यूजर्स
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें