scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: लालू के बेटे को 'बहरूपिया कला केंद्र' का उद्घाटन करते दिखाती ये तस्वीर है फर्जी

इंडिया टुडे एंटी फेक न्यूज़ वॉर रूम (AFWA) ने पाया कि वायरल तस्वीर फर्जी है. असली तस्वीर में तेज प्रताप पटना चिड़ियाघर में तेंदुए के पिंजरे का उद्घाटन कर रहे हैं. ये तस्वीर मार्च 2017 की है. फर्जी तस्वीर फेसबुक और ट्विटर पर जमकर वायरल हो रही है.

वायरल तस्वीर वायरल तस्वीर

राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव अलग-अलग रूप धारण करने को लेकर अक्सर सुर्खियों में बने रहते हैं. कभी वो तस्वीरों में भगवान् कृष्ण का वेश धारण कर बांसुरी बजाते दिखते हैं, तो कभी भगवान शिव जैसी तपस्या की मुद्रा में. अब बिहार चुनाव से पहले उनकी एक वायरल तस्वीर के जरिए दावा किया जा रहा है कि तेज प्रताप ने "बहरूपिया कला केन्द्र" का उद्घाटन किया. 

तस्वीर में तेज प्रताप एक उद्घाटन पट्ट के बगल में खड़े दिख रहे हैं, जिस पर लिखा है " नव निर्मित बहुरुपिया कला केन्द्र का उद्घाटन सुप्रिसिध्द बहुरुपिये श्री तेज प्रताप यादव के करकमलों द्वारा आज समपन्न हुआ." तस्वीर के साथ सोशल मीडिया यूजर्स तेज प्रताप पर कटाक्ष करते हुए लिख रहे हैं "पहली बार किसी भवन का उद्घाटन किसी सही इंसान द्वारा कराया गया है". 

इंडिया टुडे एंटी फेक न्यूज़ वॉर रूम (AFWA) ने पाया कि वायरल तस्वीर फर्जी है. असली तस्वीर में तेज प्रताप पटना चिड़ियाघर में तेंदुए के पिंजरे का उद्घाटन कर रहे हैं. ये तस्वीर मार्च 2017 की है. फर्जी तस्वीर फेसबुक और ट्विटर पर जमकर वायरल हो रही है. 2019 में भी इस तस्वीर को लोगों ने शेयर किया था. वायरल पोस्ट का आर्काइव यहां देखा जा सकता है. 

कैसे की पड़ताल? 

तस्वीर को लेकर अलग-अलग कीवर्ड्स और रिवर्स सर्च की मदद से हमें असली तस्वीर 'युवा राजद वैशाली' नाम के एक फेसबुक पेज पर मिली. यहां तस्वीर को 20 मार्च 2017 को पोस्ट किया गया था. असली तस्वीर में देखा जा सकता है कि उद्घाटन पट्ट पर तेज प्रताप की ओर से तेंदुए के पिंजरे का उद्घाटन किए जाने के संबंध में जानकारी लिखी है. तेज प्रताप ने इस पिंजरे का उद्घाटन पटना चिड़ियाघर में 19 मार्च 2017 को किया था. इस दौरान फेसबुक पर और भी कुछ यूजर्स ने इसी तरह की तस्वीरों को साझा किया था. 

इस कार्यक्रम को लेकर दैनिक जागरण ने भी एक रिपोर्ट प्रकाशित की थी. जागरण की खबर में इस उद्घाटन की कुछ और तस्वीरें भी देखी जा सकती हैं. उस समय तेज प्रताप बिहार के पर्यावरण एवं वन विभाग के मंत्री थे. हमारी पड़ताल में साबित होता है कि वायरल तस्वीर फर्जी है. फोटोशॉप के मदद से इसमें बहुरूपिया शब्द जोड़ दिया गया है.

फैक्ट चेक

सोशल मीडिया यूजर्स

दावा

लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप ने "बहरूपिया कला केन्द्र" का उद्घाटन किया.

निष्कर्ष

'बहरूपिया' वाली तस्वीर फर्जी है. असली तस्वीर में तेज प्रताप पटना चिड़ियाघर में तेंदुए के पिंजरे का उद्घाटन करते हुए दिख रहे हैं. ये तस्वीर मार्च 2017 की है जब तेज प्रताप बिहार के पर्यावरण एवं वन विभाग के मंत्री थे.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
सोशल मीडिया यूजर्स
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें