scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: क्या लड़कियों से छेड़छाड़ का ये वायरल वीडियो पश्चिम बंगाल का है?

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है. जिसमें एक लड़का, लड़की को गोद में उठाते हुए दिखाई दे रहा है. वहीं लड़कियां बचकर निकलने की कोशिश भी कर रही हैं लेकिन मनचले उन्हें बार-बार पकड़ कर बदतमीजी कर रहे हैं. 

लड़कियों से छेड़छाड़ का वीडियो वायरल (प्रतीकात्मक तस्वीर) लड़कियों से छेड़छाड़ का वीडियो वायरल (प्रतीकात्मक तस्वीर)

सोशल मीडिया पर एक चौंकाने वाला वीडियो वायरल हो रहा है. जिसमें कुछ लड़के दो लड़कियों के साथ खुलेआम छेड़छाड़ करते दिखाई दे रहे हैं. पोस्ट में दावा किया गया है कि ये वीडियो पश्चिम बंगाल का है.

वीडियो में देखा जा सकता है कि लड़कियां रोकर छोड़ देने की गुहार लगा रही हैं लेकिन मनचलों पर इसका कोई असर नहीं हो रहा है. वीडियो में एक लड़का, लड़की को गोद में उठाते हुए दिखाई दे रहा है. वहीं लड़कियां बचकर निकलने की कोशिश भी कर रही हैं लेकिन मनचले उन्हें बार-बार पकड़ कर बदतमीजी कर रहे हैं.  

वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक करें....

पोस्ट के कैप्शन में लिख है- "उड़ता बंगाल .......हाय रे हिन्दू ...हाय रे हिंदुस्तान......दुखद.....बंगाल बना अब पाकिस्तान.....मोमता बनर्जी मुर्दाबाद ।।

उठो जागो और शस्त्र उठा कर खुद की रक्षा करो सरकार कुछ नहीं करेगी ।।"

इंडिया टुडे एंटी फेक न्यूज़ वॉर रूम (AFWA) ने पाया कि वीडियो पश्चिम बंगाल का नहीं बल्कि उत्तर प्रदेश के रामपुर का है. ये मामला मई 2017 में सामने आया था. ये वीडियो भ्रामक दावे के साथ 'पंडित अम्बरीष तिवारी जिलाध्यक्ष भदोही' नाम के एक फेसबुक पेज पर शेयर हुआ है. पोस्ट को अभी तक लगभग 2000 बार शेयर किया जा चुका है.

वीडियो के कीफ्रेम्स को रिवर्स सर्च करने पर इससे संबंधित मई 2017 की कुछ मीडिया रिपोर्ट्स मिली हैं.

रिपोर्ट्स के मुताबिक वीडियो रामपुर के टांडा गांव का था, जहां पर 14 लड़कों ने दो लड़कियों के साथ सरेआम छेड़खनी की थी. इस वीडियो को लड़को के खुद ही रिकॉर्ड कर सोशल मीडिया पर शेयर किया था. वीडियो के वायरल होने के बाद पुलिस ने चार मुख्य आरोपी सहित नौ लोगों को गिरफ्तार किया था.

फैक्ट चेक

'पंडित अम्बरीष तिवारी जिलाध्यक्ष भदोही' नाम के एक फेसबुक पेज

दावा

पश्चिम बंगाल का एक वीडियो जिसमें कुछ लड़के दो लड़कियों के साथ खुलेआम छेड़छाड़ करते हुए दिख रहे हैं.

निष्कर्ष

वीडियो पश्चिम बंगाल का नहीं बल्कि उत्तरप्रदेश के रामपुर का है.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
'पंडित अम्बरीष तिवारी जिलाध्यक्ष भदोही' नाम के एक फेसबुक पेज
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें