scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: अनुप्रिया पटेल ने नहीं किया है कांग्रेस की 'भारत जोड़ो यात्रा' का समर्थन, भ्रामक दावे के साथ तीन साल पुराना वीडियो वायरल

इंडिया टुडे के एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने पाया कि भाजपा के प्रति अनुप्रिया की नाराजगी वाला ये वीडियो करीब तीन साल पुराना है और कांग्रेस की 'भारत जोड़ो यात्रा' से इसका कुछ लेना-देना नहीं है. 

X
अनुप्रिया पटेल ने नहीं किया है कांग्रेस की 'भारत जोड़ो यात्रा' का समर्थन अनुप्रिया पटेल ने नहीं किया है कांग्रेस की 'भारत जोड़ो यात्रा' का समर्थन

केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल का एक हैरान कर देने वाला वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल है. इस वीडियो में अनुप्रिया भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधती नजर आ रही हैं. वीडियो को शेयर करते हुए कुछ लोग कह रहे है कि अपना दल (एस) की राष्ट्रीय अध्यक्ष अब बीजेपी से नाता तोड़कर कांग्रेस की 'भारत जोड़ो यात्रा' के समर्थन में खुलकर सामने आ गई हैं. 

इस वीडियो में नजर आ रहा है कि अनुप्रिया के सामने कई न्यूज चैनलों के माइक रखे हुए हैं. वो कह रही हैं, “भारतीय जनता पार्टी को लेकर हमारे सामने कुछ समस्याएं आईं और हमने उनको शीर्ष नेतृत्व के सामने रखा भी. और उन्हें समय भी दिया कि उन समस्याओं का समाधान करें. लेकिन उन्होंने इन समस्याओं का समाधान नहीं किया. इससे यह प्रतीत होता है कि भारतीय जनता पार्टी को अपने सहयोगी दलों की शिकायतों से कोई लेना-देना नहीं है. इसलिए अपना दल अब स्वतंत्र है, अपना रास्ता चुनने के लिए.” 

इसके बाद वॉइस ओवर सुनाई देता है, “टूट गया भाजपा का महागठबंधन. कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा के समर्थन में उतरीं अनुप्रिया पटेल." फिर उसी वॉइस ओवर में 'भारत जोड़ो यात्रा' के बारे में कुछ और जानकारियां दी जाती हैं. साथ ही ये भी कहा जाता है कि अब कांग्रेस की 'भारत जोड़ो यात्रा' को अनुप्रिया पटेल का समर्थन मिल चुका है.

इंडिया टुडे के एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने पाया कि भाजपा के प्रति अनुप्रिया की नाराजगी वाला ये वीडियो करीब तीन साल पुराना है और कांग्रेस की 'भारत जोड़ो यात्रा' से इसका कुछ लेना-देना नहीं है. 

अनुप्रिया हाल ही में कांग्रेस की इस रैली के खिलाफ टिप्पणी भी कर चुकी हैं. 

कैसे पता लगाई सच्चाई?

कीवर्ड सर्च के जरिये तलाशने पर हमें पता लगा कि अनुप्रिया पटेल ने बीजेपी को आड़े हाथों लेने वाला ये बयान फरवरी 2019 के लोकसभा चुनाव से ठीक पहले दिया था. 22 फरवरी 2019 को 'एनडीटीवी' ने इस बारे में एक खबर भी छापी थी. उस वक्त अनुप्रिया पटेल भारत सरकार के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय में राज्य मंत्री थीं और कुछ कारणों के चलते भाजपा से नाराज थीं. 

प्रेस कांफ्रेंस का वायरल वीडियो हमें एबीपी न्यूज की एक वीडियो रिपोर्ट में मिला जिसे 22 फरवरी, 2019 को अपलोड किया गया था. 

 

 

क्या थी नाराजगी की वजह?

‘आज तक’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, उस वक्त अनुप्रिया उत्तर प्रदेश की बीजेपी सरकार में कैबिनेट मंत्रालय चाह रही थीं. इसके अलावा वो कथित तौर पर सरकारी कार्यक्रमों में तवज्जो न मिलने की वजह से भी खफा थीं. 

'भारत जोड़ो यात्रा' को लेकर क्या बोलीं अनुप्रिया?  

इस बारे में कीवर्ड सर्च करने पर हमें 14 सितंबर को छपी 'जागरण' की एक रिपोर्ट मिली. खबर के अनुसार, भारत जोड़ो यात्रा पर बड़ा बयान देते हुए अनुप्रिया ने कहा है कि इस रैली से कोई फर्क नहीं पड़ेगा. साथ ही उन्होंने 2024 लोकसभा चुनाव में फिर से एनडीए सरकार बनने का दावा भी किया.

इसी साल अप्रैल में भी अनुप्रिया पटेल का ये वीडियो भ्रामक दावे के साथ वायरल हुए था. उस वक्त भी हमने इसकी सच्चाई (https://bit.ly/3RVvy94) बताई थी. 

इस तरह ये बात साबित हो जाती है कि राहुल गांधी के नेतृत्व में चल रही भारत जोड़ो यात्रा के साथ अनुप्रिया के पुराने बयान को गलत तरीके से जोड़ा जा रहा है. जहां कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा की शुरुआत इसी साल सितंबर में की गई है, वहीं अनुप्रिया का ये बयान करीब तीन साल पुराना है.  

इनपुट: ऋद्धीश दत्ता 
 

फैक्ट चेक

सोशल मीडिया यूजर्स

दावा

अपना दल (एस) की राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुप्रिया पटेल ने भारतीय जनता पार्टी से गठबंधन तोड़ कर कांग्रेस की 'भारत जोड़ो यात्रा' को अपना समर्थन दिया.

निष्कर्ष

ये वीडियो साल 2019 का है जब अनुप्रिया कुछ कारणों के चलते बीजेपी से खफा थीं. हाल ही में कांग्रेस की 'भारत जोड़ो यात्रा' को लेकर उन्होंने कहा है कि इस तरह की रैली से कोई फर्क नहीं पड़ता.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
सोशल मीडिया यूजर्स
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें