scorecardresearch
 

eAgenda Aaj Tak: कोरोना से बचना है तो एसी की जगह रूम कूलर का करें इस्तेमाल-एक्सपर्ट

कोरोना संकट को लेकर शनिवार को दिनभर ई-एजेंडा आजतक तक का मंच सजा. इसके अंतिम सत्र, लॉकडाउन बढ़ेगा या हटेगा में दुनिया के 6 प्रमुख डॉक्टरों ने हिस्सा लिया. अमेरिका के न्यूयॉर्क में पीडियाट्रिक इमरजेंसी मेडिसिन फिजीशियन डॉ. कृष्ण कुमार ने कहा कि कोरोना से बचने के लिए एसी का इस्तेमाल फिलहाल छोड़ देना चाहिए.

X
एसी के इस्तेमाल से कोरोना के संक्रमण की रहती है आशंका एसी के इस्तेमाल से कोरोना के संक्रमण की रहती है आशंका

  • ई-एजेंडा आजतक में शामिल हुए दुनिया के प्रमुख डॉक्टर
  • सोशल डिस्टेंसिंग को सबने बताया सबसे कारगर उपाय
  • एक एक्सपर्ट ने कहा कि एसी के इस्तेमाल से बचना चाहिए

कोरोना संकट को लेकर शनिवार को दिनभर 'ई-एजेंडा आजतक' तक का मंच सजा. इसके अंतिम सत्र 'लॉकडाउन बढ़ेगा या हटेगा में दुनिया के 6 प्रमुख डॉक्टरों ने हिस्सा लिया. अमेरिका के डॉ. कृष्ण कुमार ने कहा कि कोरोना से बचने के लिए यह जरूरी है कि एसी का इस्तेमाल न किया जाए और इसकी जगह लोग रूम कूलर का इस्तेमाल करें.

अमेरिका के न्यूयॉर्क में पीडियाट्रिक इमरजेंसी मेडिसिन फिजीशियन डॉ. कृष्ण कुमार ने कहा, 'कोरोना से बचने के लिए एसी का इस्तेमाल फिलहाल छोड़ देना चाहिए. इससे कोरोना के फैलने का डर रहता है. एसी की जो हवा है वो वायरस के फैलने के लिहाज से काफी खतरनाक है. इसकी जगह बेहतर है कि आप रूम कूलर का इस्तेमाल करें. घर को साफ-सुथरा और खुला रखें. जितना ही आप खुले वातावरण में रहेंगे, उतना ही कोरोना से बेहतर तरीके से बचाव होगा.'

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

उन्होंने कहा कि अमेरिका में हालात बहुत खराब हैं, लेकिन भारत में अच्छे कदम उठाए गए हैं. उन्होंने कहा, 'लॉकडाउन ही इसका फिलहाल एकमात्र इलाज है, लॉकडाउन के बाद भी सोशल डिस्टेंसिग जरूरी है. लॉकडाउन का फैसला लेकर मोदी जी ने बहुत अच्छा किया है. थोड़े दिन घर में रहिए.'

क्या प्लाज्मा थेरेपी उपयोगी है?

डॉ. कृष्ण कुमार ने कहा, 'प्लाज्मा थेरेपी से कुछ लोगों को फायदा हुआ है. लेकिन बड़े पैमाने पर फायदा नहीं हुआ है. अभी रिसर्च चल रहा है. लोग एक-दूसरे से जितने दूर रहेंगे बीमारी दूर होती जाएगी.'

अमेरिका के कैलिफोर्निया से ही डॉ. मनीष लुंबा ने कहा कि कोई भी दवा अभी प्रभावी या सुरक्षित नहीं मानी गई. उन्होंने कहा, 'अभी दवाओं का सिर्फ ट्रायल ही ​चल रहा है, जिसमें हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन और प्लाज्मा थेरेपी भी हैं. प्लाज्मा थेरेपी का रिस्पांस बॉडी कैसे करती है, यह देखना भी महत्वपूर्ण है, कई बार यह नुकसानदेह हो जाता है.'

अमेरिका के न्यूजर्सी से डॉ. अंजलि कक्कड़ ने कहा कि प्लाज्मा जितना आसान लग रहा है उतना नहीं. इसमें काफी वक्त लगता है और यह हमारे पास है नहीं.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

सोशल डिस्टेंसिंग है जरूरी

डॉ. अंजलि कक्कड़ ने कहा कि हम इस बात को समझ गए हैं कि अगर लॉकडाउन खत्म भी हो जाता है तो भी हमें सोशल डिस्टेंंसिंग बनाए रखना चाहिए. अमेरिका से डॉ. राम चरित्र शर्मा ने कोरोना से निपटने के लिए एमएसडी का मंत्र दिया. यानी मास्क, सोप का इस्तेमाल और डिस्टेंस बनाना.

डॉ. शर्मा ने कहा कि इस लॉकडाउन का होना बहुत जरूरी है ये तो पक्का है. उन्होंने कहा, 'हिंदुस्तान का निगरानी सिस्टम बहुत अच्छा है. लेकिन अभी सिर्फ तीन चीजें महत्वपूर्ण हैं-मास्क, सोप और डिस्टेंस यानी मास्क लगाना, साबुन का इस्तेमाल और सोशल डिस्टेंसिंग बनाना.'

आजतक पर शनिवार को दिनभर ई-एजेंडा का मंच सजा जिसमें राजनेताओं से लेकर फिल्मी सितारे और कोरोना से जंग जीतने वालों से लेकर क्रिकेट जगत के सितारों ने कोरोना वायरस के खिलाफ देश के साथ एकजुटता और प्रतिबद्धता दिखाई. नेताओं ने जहां कोरोना के खिलाफ सरकार की तैयारियों पर अपनी राय रखी वहीं फिल्मी सितारों ने अपने गानों के जरिए लोगों का उत्साह बढ़ाया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें