scorecardresearch
 

सुष्मिता सेन की 8 महीने की भतीजी को हुई ये बीमारी, आधी रात में ले जाना पड़ा अस्पताल

चारू असोपा ने बताया कि उन्होंने अपनी बेटी को डॉक्टर्स को भी दिखाया है और वो उसका इलाज भी करा रही हैं, लेकिन लंबे समय तक कुछ काम नहीं कर रहा है. उन्होंने बताया कि उन्हें आधी रात को बेटी को हॉस्पिटल लेकर जाना पड़ा.

X
सुष्मिता सेन और चारू असोपा अपनी बेटी के साथ सुष्मिता सेन और चारू असोपा अपनी बेटी के साथ

सुष्मिता सेन के भाई-भाभी की जिंदगी इस समय मुश्किल दौर से गुजर रही है. चारू असोपा और राजीव सेन ने अपनी शादी को खत्म करके एक दूसरे से अलग होने का फैसला कर लिया है. सुष्मिता के भाई-भाभी की एक छोटी बेटी भी हैं, जो अब कपल के अलग होने के बाद चारू असोपा के साथ ही रहती है. 

चारू की बेटी की हुई तबीयत खराब

लेकिन ये खबर सुनकर आपका दिल टूट सकता है. चारू असोपा की नन्ही बेटी Ziana की तबीयत ठीक नहीं है. चारू ने अपने व्लॉग में अपनी बेटी की बीमारी के बारे में फैंस को जानकारी दी है. चारू ने बताया है कि उनकी नन्ही सी बेटी हाथ, पैर और मुंह की बीमारी से जूझ रही है. चारू ने अपने व्लॉग में बताया- जियाना बहुत छोटी है और उसे छाले होने लगे हैं. वो सो नहीं पाती, ठीक से खा नहीं पाती. हर टाइम सिर्फ रोती है. 

चारू ने बताया कि उन्होंने अपनी बेटी को डॉक्टर्स को भी दिखाया है और वो उसका इलाज भी करा रही हैं, लेकिन लंबे समय तक कुछ काम नहीं कर रहा है. उन्होंने बताया कि उन्हें आधी रात को बेटी को हॉस्पिटल लेकर जाना पड़ा. चारू ने कहा-  Ziana के साथ मैं अकेली हूं. इसलिए मुझे नहीं पता कि इसे कैसे हैंडल करूं. लेकिन फिर मुझे एहसास हुआ कि मुझे हिम्मत रखनी पड़ेगी, क्योंकि ये मेरी बच्ची की बात है. 

चारू असोपा की बेटी को हुई ये बीमारी

चारू ने अपना दर्द बयां करते हुए आगे कहा- मैं जियाना को रात में 2.30 बजे हॉस्पिटल लेकर पहुंची. डॉक्टर्स भी समझ नहीं पा रहे थे कि उसे हुआ क्या है. उन्होंने जियाना को पेट दर्द की दवाई दी. उसके बाद हम घर आए और कुछ देर ही सोए, लेकिन जियाना ने फिर से रोना शुरू कर दिया. फिर मैंने चाइल्ड स्पेशलिस्ट से बात की. उन्होंने बताया कि जियाना को हाथ, पैर और मुंह की बीमारी है. 

चारू ने कहा कि अब उन्हें पता है कि उनकी बेटी को क्या बीमारी है और सही ट्रीटमेंट मिलने पर जियाना ठीक हो जाएगी. उन्होंने न्यू मॉम्स को मैसेज देते हुए कहा- मैं सभी नई मॉम्स से रिक्वेस्ट करती हूं कि पैनिक न हो और धैर्य बनाए रखें. पैनिक होने से परेशानी बढ़ती है. हर एक औरत बहुत स्ट्रॉन्ग है. सभी नई मॉम्स को हैट्स ऑफ. जब मुश्किल चैलेंजेस से आपका सामना होता है, तभी आप अपनी स्ट्रेंथ को जान पाते हैं कि आप कितनी स्ट्रॉन्ग हैं.   

हम दुआ करेंगे की चारू असोपा की बेटी जल्दी ठीक हो जाएं.

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें