scorecardresearch
 

KBC 14: धन अमृत के सवाल पर आकर अटकीं रजनी मिश्रा, यह था प्रश्न, खेल किया क्विट

अमिताभ बच्चन का पॉपुलर क्विज शो 'कौन बनेगा करोड़पति 14' में गुरुवार की शुरुआत फास्टेस्ट फिंगर फर्स्ट के सवालों के साथ हुई. हॉट सीट पर दुर्गापुर से आईं रजनी मिश्रा पहुंचीं. 50 लाख रुपये जीतकर यह घर लौटीं, लेकिन धन अमृत द्वार के सवाल पर आकर यह अटक गईं. रजनी जीती हुई धनराशि से पीएचडी करेंगी.

X
अमिताभ बच्चन, रजनी मिश्रा
अमिताभ बच्चन, रजनी मिश्रा

क्विज शो 'कौन बनेगा करोड़पति 14' में गुरुवार के एपिसोड की शुरुआत नए सिरे से हुई. फास्टेस्ट फिंगर फर्स्ट के सवाल पूछकर अमिताभ बच्चन ने बचे हुए इस वीक के कंटेस्टेंट्स का हौसला बढ़ाया. हॉट सीट पर पहली कंटेस्टेंट रजनी मिश्रा पहुंचीं. स्टेज पर आते ही वह काफी इमोशनल हो गईं. अमिताभ बच्चन ने उनके आगे झुककर प्रणाम किया और उन्हें टिशू पेपर ऑफर भी किया.

अमिताभ के इस अंदाज को देखकर ऑडियन्स की हंसी छूट गई, लेकिन रजनी इमोशनल ही नजर आईं. अमिताभ बच्चन जैसी ही अपनी सीट पर खेल की शुरुआत करने के लिए बैठते हैं तो सबसे पहले कहते हैं कि रजनी जी, क्या है कि इस सीजन में जितनी भी महिलाएं हॉट सीट तक आई हैं, या पुरुष भी आए हैं. वह वहां से यहां तक रोते-रोते आए हैं. आप रोना बंद कीजिए. क्या हम करें जो आपका रोना बंद हो जाए. इसपर रजनी ने बताया कि सर, यह खुशी के आंसू हैं. 

रजनी, दुर्गापुर वेस्ट बंगाल से हैं और होममेकर हैं. यह कहकर अमिताभ बच्चन ने रजनी मिश्रा का परिचय दिया. रजनी होममेकर के साथ स्टूडेंट भी हैं. जब भी उन्हें घर के कामों से फुर्रसत मिलती है तो वह पढ़ाई करती हैं. बहुत कम उम्र में रजनी मिश्रा की शादी हो गई थी. पढ़ाई पूरी हुई नहीं, शादी हो गई, परिवार संभालने लगीं. लेकिन पति ने काफी सपोर्ट किया. शादी के बाद रजनी ने ग्रेजुएशन की. बीएड किया और हालिया समय में रजनी पीएचडी की पढ़ाई करने की प्लानिंग कर रही हैं. अमिताभ बच्चन, रजनी की पूरी कहानी सुनकर काफी इंप्रेस हुए. 

रजनी नहीं दे पाईं 75 लाख के सवाल का जवाब
रजनी ने 25 लाख रुपये तक के सवालों का जवाब बेहद ही बेबाकी के साथ दिया. जब अमिताभ बच्चन ने उनसे 50 लाख रुपये का सवाल पूछा तो उनके पास दो लाइफलाइन बची थीं. ऑडियन्स पोल और फोन अ फ्रेंड. 50 लाख रुपये के सवाल पर रजनी ने ऑडियन्स पोल ली. इसके बाद 75 लाख रुपये यानी की धन अमृत द्वार का अमिताभ बच्चन ने सवाल किया. यह सवाल था कि किस शहर की प्रयोगशाला में बंदरों में मंकीपॉक्स का पहला मामला सामने आया था? जोहानसबर्ग, कुआला लम्पुर, टोक्यो या फिर कोपेनहेगेन. 

इस प्रश्न का जवाब देने के लिए रजनी ने तीसरी और आखिरी लाइफलाइन फोन अ फ्रेंड ली. रजनी ने बैजू लाल साओ से इस प्रश्न को लेकर बात की. बैजू ने बताया कि उन्हें जोहानसबर्ग लग रहा है, लेकिन वह कन्फर्म नहीं हैं. रजनी इस सवाल पर आकर अटक गईं. इस प्रश्न पर बिना रिस्क लिए क्विट करना ठीक समझा. रजनी 50 लाख रुपये लेकर घर लौटीं. इस प्रश्न का सही जवाब था कोपेनहेगेन. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें