scorecardresearch
 

'भाबीजी' फेम Kishore Bhanushali को देव आनंद का डुप्लीकेट होना पड़ा महंगा, नहीं मिलते थे रोल्स

किशोर भानुशाली 'शक्तिमान' और 'हप्पू की उल्टन पल्टन' जैसे कई शोज में काम कर चुके हैं. पर असली पहचान उन्हें 'भाबीजी घर पर हैं' सीरियल से मिली. एक्टर को जूनियर देव आनंद भी कहा जाता है. एक्टर का कहना है, देव आनंद का हमशक्ल होने की वजह से उनके हाथ से कई बड़े ऑफर्स भी निकल चुके हैं.

X
किशोर भानुशाली
किशोर भानुशाली

एक्टर्स की जिंदगी दूर से जितनी कूल दिखती है. असल में वैसा होता नहीं है. टीवी और फिल्मी दुनिया के कई सितारे हैं, जिन्होंने इस पर खुल कर बात भी की है. अब 'भाबीजी घर पर हैं' (Bhabiji Ghar Par Ha) फेम किशोर भानुशाली (Kishore Bhanushali) ने अपने स्ट्रगल की कहानी लोगों तक पहुंचाने की कोशिश की है. किशोर भानुशाली ने 'शक्तिमान' और 'हप्पू की उल्टन पल्टन' जैसे कई शोज में काम किया है. पर असली पहचान उन्हें 'भाबीजी घर पर हैं' शो से मिली. 

एक्टर के हाथ से क्यों निकले रोल्स?
ईटाइम्स को दिये इंटरव्यू में किशोर भानुशाली ने अपने करियर से जुड़ी बहुत सी ऐसी बातें शेयर की हैं, जो अब तक शायद ही किसी को पता होंगी. किशोर भानुशाली को 'जूनियर देव आनंद' भी कहा जाता है. एक्टर की शक्ल काफी हद तक देव आनंद साहब से मिलती-जुलती भी है. कई लोगों को लग रहा होगा कि ये एक्टर के लिये फायदेमंद साबित हुआ होगा. पर हकीकत इससे काफी उलट है. 

शक्ति कपूर के साथ किशोर भानुशाली

इंटरव्यू के दौरान किशोर भानुशाली ने बताया कि वो पिछले 33 साल से इंडस्ट्री में काम कर रहे हैं. पर उन्हें लोकप्रियता 'भाबीजी' सीरियल ने दिलाई. इंडस्ट्री में स्ट्रगल पर बात करते हुए उन्होंने बताया, मुझे काम पाने के लिये काफी कुछ झेलना पड़ा. कई लोगों को यकीन नहीं होगा, पर देव साहब का डुप्लीकेट होने की वजह मैंने कई ऑफर्स खो दिये. हालांकि, मैं हमेशा कोशिश करता रहा और विश्वास था कि सब अच्छा होगा. मैं बिना रुके धीरे-धीरे चलता रहा और आज वैसा ही हो रहा है. 

आसिफ शेख की वजह से मिला रोल
किशोर भानुशाली बताते हैं कि 'भाबीजी घर पर हैं' शो उन्हें आसिफ शेख की बदौलत मिला है. एक्टर बताते हैं कि वो और आसिफ शेख अच्छे दोस्त हैं. आसिफ शेख को शो में विभूति जी का रोल ऑफर हुआ है. उन्होंने अपने किरदार से लोगों का दिल जीता. इसके बाद आसिफ ने डायरेक्टर से किशोर भानुशाली को मिलवाया. वहीं डायरेक्टर शशांक बाली ने किशोर भानुशाली के टैलेंट को पहचाना और फौरन उन्हें अनीता भाभी के चाचा का रोल दे दिया. इसके बाद उन्हें  पुलिस कमिश्नर का कैरेक्टर अदा करने का मौका भी मिला और इस तरह वो धीरे-धीरे आगे बढ़ते चले गये. 

बीते दिनों को याद करते हुए किशोर भानुशाली बताते हैं कि देव आनंद साहब से उनकी पहली मुलाकात बेहद खास रही थी. देव आनंद ने उन्हें एक्टिंग में आने से पहले पढ़ाई पूरी करने की सलाह दी थी. एक्टिंग की दुनिया में एंट्री लेने से पहले किशोर भानुशाली डांस क्लिप्स बनाया करते थे. जिसके लिये उन्हें दो रुपये मिलते थे. पर फैमिली को उनका ये काम पसंद नहीं था. इसलिये उनकी शादी करा कर पारिवारिक बिजनेस में शामिल करा दिया. पर वो कहते हैं ना कि जिसे जहां पहुंचना होता है. वो पहुंच जाता है. एक्टर मोहन जोशी ने किशोर भानुशाली को एक  नाटक में देव आनंद की एक्टिंग करने का मौका दिया. इसके बाद उन्होंने 'पागलखाना' में काम किया. टीवी के साथ-साथ किशोर भानुशाली कई फिल्मों में भी काम कर चुके हैं.  
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें