scorecardresearch
 

सुसाइड से पहले सुशांत ने गूगल पर सर्च की थीं ये तीन चीजें, अपना नाम और...

मुंबई पुलिस के कमिश्नर परमबीर सिंह ने कहा कि सुशांत ने सुसाइड से पहले गूगल पर कई चीजें सर्च की थीं. इनमें बाइपोलर डिसॉर्डर, स्तिजोफ्रेनिया, पेनलेस डेथ (दर्दरहित मौत) और अपना नाम शामिल है.

सुशांत सिंह राजपूत सुशांत सिंह राजपूत

सुशांत सिंह राजपूत के निधन के केस में मुंबई पुलिस ने कई अहम खुलासे किए हैं. सोमवार को मुंबई पुलिस के कमिश्नर परमबीर सिंह ने कहा कि सुशांत ने सुसाइड से पहले गूगल पर कई चीजें सर्च की थी. इनमें बाइपोलर डिसॉर्डर, स्तिजोफ्रेनिया, पेनलेस डेथ (दर्दरहित मौत) और अपना नाम शामिल है. बता दें कि बाइपोलर डिसॉर्डर और स्तिजोफ्रेनिया गंभीर मानसिक बीमारियां हैं और इन बीमारियों के अक्सर घातक परिणाम सामने आते हैं.

परमबीर सिंह ने कहा कि इस फ्लैट को सुशांत के सुसाइड वाले दिन यानि 14 जून को सील किया गया था वही फोरेंसिक टीम 15 जून को पहुंची थीं. इसके अलावा फ्लैट में डॉक्टर्स भी पहुंचे थे. इसके बाद ही इस फ्लैट को डी-सील किया गया था. हमारी स्टेटमेंट्स कहती हैं कि जब सुशांत का नाम दिशा सालियान केस में सामने आया था तो वो काफी डिस्टर्ब महसूस कर रहे थे.

View this post on Instagram

A post shared by Sushant Singh Rajput (@sushantsinghrajput) on

उन्होंने आगे कहा कि सुशांत दिशा से केवल एक बार मिले थे. उन्होंने दिशा के वकील को मैसेज भी किया था कि आखिर इस मामले में उनका नाम क्यों घसीटा जा रहा है. सुशांत की गूगल सर्च हिस्ट्री की अगर बात करें तो उन्होंने दर्दरहित मौत, बाइपोलर डिस, स्तिजोफ्रेनिया और अपने नाम को गूगल पर सर्च किया था. सुशांत की थेरेपिस्ट के दावे पर विशाल कीर्ति ने लिखा था ब्लॉग

कमिश्नर बोले- बिहार पुलिस को जांच का हक नहीं, रिया और सुशांत के परिवार में थी अनबन

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पुलिस कमिश्नर ने बताया कि सुशांत के परिवार ने 16 जून के अपने बयान में कहा है कि उन्हें इस मामले में किसी पर शक नहीं है. कमिश्नर के मुताबिक, रिया चक्रवर्ती ने सुशांत सिंह राजपूत का घर 8 जून को छोड़ दिया था, क्योंकि वो भी डिप्रेस थी. उसकी हालत भी ठीक नहीं थी, इसलिए वो चली गई थी. इसके बाद सुशांत की बहन आई वो भी 13 जून को चली गई, क्योंकि उनकी बेटी की परीक्षाएं थी.

कमिश्नर के मुताबिक, रिया के दो बार बयान दर्ज किए गए हैं जिसमें सामने आया है कि उनके रिश्तों में कुछ खटास थी. उन्होंने मिलने की कहानी से लेकर, सुशांत की दिमागी हालत और कुछ घटनाओं को लेकर बताया. हमने सभी चीजों का क्रॉस चेक किया है. रिया चक्रवर्ती और सुशांत के परिवार के बीच कुछ अनबन थी.

सुशांत की थेरेपिस्ट का बड़ा खुलासा

बता दें कि कुछ दिनों पहले सुशांत की थेरेपिस्ट ने कहा था कि सुशांत मानसिक बीमारी से जूझ रहे थे और रिया उनके साथ मजबूती से खड़ी थीं. उन्होंने ये भी कहा था कि पिछले कुछ समय से उनके क्लाइंट को लेकर चल रही तमाम तरह की अफवाहों पर विराम लगाने के लिए ही वे सामने आई हैं. इस महिला थेरेपिस्ट का बयान सामने आने के बाद सुशांत के जीजा विशाल ने एक ब्लॉग लिखा था और इस थेरेपिस्ट और रिया पर सवाल खड़े किए थे.

विशाल ने इस ब्लॉग में कहा था कि किसी थेरेपिस्ट द्वारा अपने क्लाइंट(सुशांत) की मेडिकल हिस्ट्री पब्लिक ना केवल क्लाइंट की प्राइवेसी का हनन है बल्कि ये गैर कानूनी भी है. उन्होंने कहा था कि महज 3-4 महीनों में और कुछ अपॉइन्टमेंट्स के सहारे ये थेरेपिस्ट सुशांत की मेंटल हेल्थ को लेकर इस तरह के दावे नहीं कर सकती हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें