scorecardresearch
 

सुशांत की बहन का इमोशनल नोट, 35 साल में पहली बार वो कलाई नहीं जिस पर राखी बांध सकूं

सुशांत सिंह राजपुत के सुसाइड करने की वजह की तहकीकात दो राज्यों की पुलिस कर रही है. बिहार पुलिस मामले की जांच के लिए मुंबई पहुंची है. दोनों राज्यों की पुलिस के बीच सुशांत केस को लेकर खींचतान चल रही है.

सुशांत सिंह राजपूत अपनी बहन के साथ सुशांत सिंह राजपूत अपनी बहन के साथ

सुशांत सिंह राजपूत का निधन 14 जून को उनके बांद्रा स्थित फ्लैट में हुआ था. सुशांत के अचानक चले जाने के गम से उनके परिवारवाले अभी तक उबर नहीं पाए हैं. सुशांत के अलविदा कह जाने से उनकी बहनें राखी के मौके पर अपने भाई को बेहद मिस कर रही हैं. हर साल की तरह वे अब सुशांत को कभी राखी नहीं बांध पाएंगी. इसी दुख को जताते हुए सुशांत की बहन रानी ने इमोशनल नोट लिखा है.

क्या लिखा सुशांत की बहन ने?

गुलशन, मेरा बच्चा

आज मेरा दिन है.

आज तुम्हारा दिन है.

आज हमारा दिन है.

आज राखी है.

पैंतीस साल के बाद ये पहला अवसर है जब पूजा की थाल सजी है. आरती का दीया भी जल रहा है. हल्दी-चंदन का टीका भी है. मिठाई भी है. राखी भी है. बस वो चेहरा नहीं है जिसकी आरती उतार सकूं. वो ललाट नहीं है जिसपर टीका सजा सकूं. वो कलाई नहीं जिस पर राखी बांध सकूं. वो मुंह नहीं जिसे मीठा कर सकूं. वो माथा नहीं जिसे चूम सकूं. वो भाई नहीं जिसे गले लगा सकूं.

सुशांत केस की जांच के लिए मुंबई पहुंचे पटना SP को BMC ने किया क्वारनटीन

सुशांत केस: शेखर सुमन बोले- रिया चक्रवर्ती को बनाया जा रहा बली का बकरा

वर्षों पहले जब तुम जब आए थे तो जीवन जगमग हो उठा था. जब थे तो उजाला ही उजाला था. अब जब तुम नहीं हो तो मुझे समझ नहीं आता कि क्या करूं? तुम्हारे बगैर मुझे जीना नहीं आता. कभी सोचा नहीं कि ऐसा भी होगा. ये दिन होगा पर तुम नहीं होगे. ढेर सारी चीजें हमने साथ-साथ सीखी. तुम्हारे बिना रहना मैं अकेले कैसे सीखूं. तुम्हीं कहो.

हमेशा तुम्हारी

रानी दी

बता दें, सुशांत सिंह के सुसाइड करने की वजह की तहकीकात दो राज्यों की पुलिस कर रही है. बिहार पुलिस मामले की जांच के लिए मुंबई पहुंची है. वहीं पहले से इस केस की जांच कर रही मुंबई पुलिस पर बिहार पुलिस ने सहयोग ना करने का आरोप लगाया है. दोनों राज्यों की पुलिस के बीच सुशांत केस को लेकर खींचतान चल रही है. वहीं सुशांत सिंह राजपूत का परिवार न्याय और मामले की सीबीआई जांच की मांग कर रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें