scorecardresearch
 

पंजाब के अनाथ बच्चों की मदद करेंगे सोनू सूद, किया भविष्य बनाने का वादा

हाल ही में सोनू सूद किर्गिस्तान में फंसे मेडिकल स्टूडेंट्स को भारत वापस लेकर आए हैं. अब वे पंजाब के अनाथ बच्चों की मदद करने वाले हैं. असला में इन बच्चों ने पंजाब की हूच त्रासदी में अपने माता-पिता को खो दिया था.

सोनू सूद सोनू सूद

एक्टर सोनू सूद देश की जनता के लिए किसी मसीहा से कम नहीं हैं. लॉकडाउन में मजदूरों को घर पहुंचाने के बाद सोनू सूद ने देशभर के लोगों से दुआएं पाई हैं. ऐसे में अब तमाम लोग सोनू के पास मदद मांगने जा रहे हैं. हाल ही में सोनू सूद किर्गिस्तान में फंसे मेडिकल स्टूडेंट्स को भारत वापस लेकर आए हैं. अब वे पंजाब के अनाथ बच्चों की मदद करने वाले हैं.

पंजाब में अनाथ हुए बच्चों का भविष्य संवारेंगे सोनू सूद

असल में इन बच्चों ने पंजाब की हूच त्रासदी में अपने माता-पिता को खो दिया था. पंजाब के डेली न्यूजपेपर रोजाना स्पोक्समैन ने सोनू सूद को टैग कर ट्वीट किया. इस ट्वीट में उन्होंने सोनू से बच्चों की मदद का आग्रह करते हुए लिखा- ''ये छोटे बच्चें अपने माता-पिता को हाल ही में हुई पंजाब त्रासदी में खो चुके है. इन्हें खाना खिलाने वाला और भविष्य बनाने वाला कोई नहीं है. ये बच्चे पढ़ना चाहते थे लेकिन अब नहीं लगता कि ऐसा मुमकिन है. @SonuSood @Karan_Gilhotra.'' ट्वीट के साथ बच्चों की फोटो को भी शेयर किया गया था.

इसके जवाब में सोनू सूद ने कहा कि वे जरूर इन बच्चों की मदद करेंगे. उन्होंने लिखा- ''मैं इस बात का पूरा ख्याल रखूंगा कि पंजाब के इन बच्चों क अच्छे घर मिलें, अच्छा स्कूल मिले और इनका भविष्य उज्जवल बने. हम आपसे कल बात करेंगे.''

ED ऑफिस से निकले रिया के भाई, सुशांत की कंपनी से नाम जुड़ने पर उठा सवाल

जब बॉलीवुड में कॉपी हुए हॉलीवुड किरदारों के लुक्स, वायरल हुए पोस्टर

पंजाब हूच त्रासदी के बारे में बात करें तो जुलाई 2020 के अंत और अगस्त 2020 की शुरुआत में पंजाब के लगभग 100 लोगों की मौत हो गई. इनकी मौत का कारण गैर-कानूनी ढंग से बनी जहरीली शराब पीना था. इसकी वजह से अमृतसर, गुरदासपुर और राजपुरा समेत पंजाब के बोर्डर में आने वाला शम्भू इलाके में लोगों की मौतें हुई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें