scorecardresearch
 

पूर्व मिस वर्ल्ड मानुषी छिल्लर की सरकार से अपील, कहा- राशन के साथ दें फ्री सैनिटरी पैड

पूर्व मिस वर्ल्ड मानुषी छिल्लर भी गरीबों की मदद को सामने आईं हैं. उन्होंने राज्य की सरकारों से गरीबों को फ्री सैनिटरी पैड देने की अपील की है.

मानुषी छिल्लर मानुषी छिल्लर

लॉकडाउन की वजह से गरीबों को कई तरह की परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. इस समस्या का हल करने में जहां एक ओर सरकार लगी है, वहीं बॉलीवुड सेलेब्स भी अपनी तरफ से कोश‍िश कर रहे हैं. पूर्व मिस वर्ल्ड मानुषी छिल्लर भी गरीबों की मदद को सामने आईं हैं. उन्होंने राज्य की सरकारों से गरीबों को फ्री सैनिटरी पैड देने की अपील की है.

पिंकविला की रिपोर्ट के मुताबिक मानुषी छिल्लर ने सरकार द्वारा सैनिटरी पैड को जरूरी सामान की लिस्ट में शामिल करने के लिए धन्यवाद दिया. साथ ही राज्य सरकारों से गरीबों को फ्री सैनिटरी पैड देने की अपील की है. मानुषी छिल्लर ने कहा- 'SARS-CoV-2 आपदा के समय भारतीय सरकार द्वारा सैनिटरी पैड्स को भी आवश्यक सामान की लिस्ट में शामिल करने के लिए धन्यवाद. हमें इसपर ध्यान देने की जरूरत है कि आर्थ‍िक रूप से कमजोर परिवार की महिलाओं को मुफ्त में सैनिटरी पैड्स मिले. मैं दूसरे राज्य की सरकारों से भी आग्रह करती हूं कि वे गरीबों को दिए जाने वाले डेली राशन में सैनिटरी पैड भी शामिल करें.'

View this post on Instagram

I’m honoured to be part of UNICEF India’s initiative to make my fellow citizens aware of the tremendous threat that exists if they decide to step outside their homes. 🙏🇮🇳 @unicefindia

A post shared by Manushi Chhillar (@manushi_chhillar) on

जब एफ‍िल टावर के सामने गोविंदा संग कर‍िश्मा ने किया था डांस, चर्चा में थी फिल्म

लॉकडाउन का असर: सबसे ज्यादा सर्च हुईं कनिका कपूर और रामायण

मानुषी ने आगे कहा- 'परेशानी यह है कि फंड की कमी से खासकर हर रोज कमाने-खाने वाले मजदूर अपना ज्यादातर पैसा खाने पर ही खर्च करेंगे. और इस कारण महिलाओं के सैनिटेशन (मासिक धर्म) कई परिवारों में जरूरत की लिस्ट में नहीं होगा. यह कई महिलाओं में स्वास्थ्य संबंधी दिक्कत की वजह बन सकता है. आर्थ‍िक संकट महिलाओं की जिंदगी के लिए रिस्क बन सकता है.'

मानुषी छिल्लर एनजीओ प्रोजेक्ट शक्त‍ि की भी सदस्य हैं. यह एनजीओ की मदद से पूरे देश की स्थानीय महिलाएं बायो डिग्रेडेबल सैनिटरी पैड बनाती हैं. यह पहल महिलाओं में मासिक धर्म को लेकर जागरूकता फैलाने का काम करती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें