scorecardresearch
 

40 हजार महिलाओं को फ्री सेल्फ ट्रेनिंग दे चुके हैं अक्षय कुमार

अक्षय ने कहा कि जी हां, मुंबई में मेरे कई स्कूल्स चलते हैं और इन स्कूलों में मैं इन बच्चियों को मार्शल आर्ट्स की ट्रेनिंग देता हूं. मैं और मेरी मार्शल आर्ट्स की टीम अब तक 40 हजार लड़कियों को मार्शल आर्ट्स की ट्रेनिंग दे चुकी है.

अक्षय कुमार अक्षय कुमार

एजेंडा आजतक 2019 में अक्षय कुमार ने शिरकत की और उन्होंने कई सवालों के जवाब दिए. मॉडरेटर श्वेता सिंह ने उनसे पीएम मोदी के इंटरव्यू से लेकर पॉलिटिक्स और फिल्मों तक पर बातचीत की. अक्षय कुमार अपनी चैरिटी के लिए भी जाने जाते हैं. इसके अलावा वे फ्री में महिलाओं को सेल्फ ट्रेनिंग भी सिखाते हैं.

मुंबई में फ्री सेल्फ ट्रेनिंग भी सिखाते हैं अक्षय

इस पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि जी हां, मुंबई में मेरे कई स्कूल्स चलते हैं और इन स्कूलों में मैं इन बच्चियों को मार्शल आर्ट्स की ट्रेनिंग देता हूं. मैं और मेरी मार्शल आर्ट्स की टीम अब तक 40 हजार लड़कियों को मार्शल आर्ट्स की ट्रेनिंग दे चुकी है और ये बिल्कुल फ्री है. हम उन्हें प्रशिक्षित करते हैं और हमारे पास कंपनी की CEO से लेकर घरों में काम करने वाली महिलाएं तक इस ट्रेनिंग को सीखने के लिए आती हैं.

इसके अलावा उन्होंने बेहद मजेदार ढंग से भारत के पॉलिटिकल सिस्टम को लेकर अपनी बात कही थी. उन्होंने कहा था कि मान लीजिए हमारे क्रिकेट कप्तान है, उदाहरण के तौर पर विराट कोहली हैं, वो टॉस के लिए जाते हैं. वे टॉस जीतते हैं. उन्होंने अपनी टीम से डिस्कस किया होगा कि टॉस जीतने पर क्या करना है. 6 खिलाड़ी कहते हैं कि फील्डिंग लेनी चाहिए, 4 खिलाड़ी कहते हैं कि बैटिंग लेनी चाहिए.

उन्होंने कहा कि अब 6 खिलाड़ी ज्यादा संख्या में थे तो कप्तान फील्डिंग ले लेता है और विपक्षी टीम ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करने लग जाती है तो फिर वो 4 खिलाड़ी बोलेंगे कि कैसा कप्तान है, बोला था बैटिंग लेने को. लेकिन ये सही तरीका नहीं है. आपको अपने लीडर का आत्मविश्वास बढ़ाना चाहिए. वही मॉडर्न दौर के भारत कुमार कहे जाने पर उन्होंने कहा था कि वे कोई टैग नहीं चाहते हैं सिर्फ काम करना चाहते हैं. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें