scorecardresearch
 

नेटफ्लिक्स की 'ऑपरेशन रोमियो' करने से डर रहे थे शरद केलकर, बोले- सोचा था लोग चप्पल से मारेंगे

नेटफ्लिक्स की फिल्म ऑपरेशन रोमियो 24 सितम्बर को टीवी पर आने वाली है. ऐसे में शरद केलकर ने अपने इस डार्क रोल के बारे में बात की. शरद ने कहा, 'फिल्म को कुछ दिन शूट करने के बाद मैं नीरज पांडे (फिल्म प्रोड्यूसर) के पास गया था. मैंने उन्हें कहा- मुझे से नहीं हो रहा, बहुत मुश्किल है.'

X
उर्फी जावेद
उर्फी जावेद

एक्टर शरद केलकर (Sharad Kelkar) अपने काम से दर्शकों को काफी इम्प्रेस कर चुके हैं. बाहुबली (Baahubali) में प्रभास (Prabhas) को आवाज देने से लेकर तान्हाजी: द अनसंग वॉरियर तक कई बढ़िया रोल्स शरद ने निभाए हैं. कुछ दिन पहले उन्हें नेटफ्लिक्स की फिल्म ऑपरेशन रोमियो (Operation Romeo) में देखा गया था. यहां उन्होंने एक लालची और जालिम पुलिसवाले मंगेश जाधव का रोल निभाया था. शरद को इस अवतार में देखकर दर्शकों का खून खौल गया था. 

शरद ने सोचा था 'चप्पल पड़ेगी'

ये फिल्म 24 सितम्बर को टीवी पर आने वाली है. ऐसे में शरद केलकर ने अपने इस डार्क रोल के बारे में बात की. उन्होंने बताया कि उन्हें इस रोल को लेकर क्या शंकाएं थीं. शरद ने हिंदुस्तान टाइम्स संग बातचीत में कहा, 'फिल्म को कुछ दिन शूट करने के बाद मैं नीरज पांडे (फिल्म प्रोड्यूसर) के पास गया था. मैंने उन्हें कहा मुझ से नहीं हो रहा, बहुत मुश्किल है.'

उन्होंने आगे बताया, 'मैंने अपने डायरेक्टर से भी कहा था कि मुझ जैसे शख्स के लिए यह रोल कर पाना काफी मुश्किल है, क्योंकि मेरी सोच बिल्कुल भी ऐसी नहीं है. मुझे लगता है मैंने उन्हें कहा था- मुझे नहीं पता मैं क्या कर रहा हूं. मुझे घिन्न आ रही है. लोग चप्पल से मारेंगे मुझे. नीरज ने मुझसे कहा था कि अगर तुम्हें ऐसा महसूस हो रहा है, तो यह फिल्म के लिए काम की चीज है.'

दोस्त ने कहा था- तुम्हें थप्पड़ मारने का मन कर रहा

इस फिल्म के रिलीज होने के बाद शरद केलकर को वैसा ही रिस्पॉन्स मिला था, जैसा वह सोच रहे थे. उन्होंने बताया, 'मेरे बहुत से दोस्तों ने मुझे फिल्म देखने के बाद कॉल किया था. यह जानते हुए भी कि मैं कैसा इंसान हूं, उन्होंने मुझे कहा- मन कर रहा है चांटा मारु तुझे. वह मेरी परफॉरमेंस से काफी खुश थे. मुझे फिल्म को लेकर चिंता नहीं थी. लेकिन मैं उन 20-30 दिनों के शूट को लेकर स्ट्रेस में था. किरदार की वजह से यह था, लेकिन यह काम आया.'

रोल के लिए दर्द से गुजरे शरद

इंटरव्यू के दौरान शरद केलकर ने एक्टिंग के अपने मेथड के बारे में भी बात की. उन्होंने कहा, 'हर एक्टर अलग तरीके से काम करता है. मैं एक बहुत नेचुरल एक्टर हूं. मैं बहुत रिहर्सल नहीं करता, क्योंकि फिर चीजें मैकेनिकल लगने लगती हैं. लेकिन क्या मंगेश जाधव जैसे किरदार को निभाने का मुझपर असर हुआ? मुझे घिन्न आ रही थी. मैं खुद के लिए बुरा सोच रहा था. पूरी फिल्म को रात में शूट किया गया था. पैक अप के बाद जब मैं घर जाता था तो सोचा करता था कि यह क्या कर रहा हूं मैं. मैं एक आठ साल की बेटी का बाप हूं. लेकिन यही एक एक्टर की जिंदगी है. हम दर्द और प्रोसेस से गुजरते हैं. यह मेरे लिए बहुत दर्दनाक था.'

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें