scorecardresearch
 

जब अमिताभ के साथ स्क्रीन शेयर करने से संजय दत्त ने किया था इनकार

संजय दत्त और अमिताभ बच्चन ने साथ में कई फिल्में की हैं. जनता को स्क्रीन पर दोनों को साथ देखना भी पसंद है. लेकिन एक ऐसा भी वक्त था जब संजय ने अमिताभ बच्चन के साथ फिल्म में काम करने से इनकार कर दिया था. आपको बताते हैं कौन सी फिल्म थी ये और संजय दत्त ने क्यों किया था इनकार.

X
अमिताभ बच्चन, संजय दत्त (Photo: Mandar Deodhar)
अमिताभ बच्चन, संजय दत्त (Photo: Mandar Deodhar)

2022 से बॉलीवुड फैन्स और कुछ याद रखना चाहें या नहीं, मगर एक एक्टर जरूर याद रहेगा- संजय दत्त (Sanjay Dutt). अप्रैल में 'KGF चैप्टर 2' में अधीरा का किरदार निभा रहे संजय दत्त को देखकर जनता सन्न रह गई थी. अभी उनके इस भयानक लुक की चर्चा चल ही रही थी कि 'शमशेरा' (Shamshera) में दारोगा शुद्ध सिंह बने वो एक बार फिर इतने खतरनाक लुक में दिखे कि जनता हैरान रह गई. 

अपना 63वां जन्मदिन मना रहे संजय दत्त इस साल जनता को जबरदस्त सरप्राइज दे चुके हैं. इस साल आई ये दो फिल्में ही नहीं, बल्कि संजय ने हमेशा अपने लिए जो भी किरदार चुने उन्हें पूरे एफर्ट से निभाया. संजय का करियर देखने पर समझ आता है कि उन्होंने कभी भी नेगेटिव रोल या फिर दो हीरो वाली फिल्में करने में ऐतराज नहीं किया.

फिल्म में चाहे दो हीरो हों या फिर कई, मगर अपनी जगह संजय हमेशा डटे रहते हैं. लेकिन क्या आपको पता है कि उन्होंने बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) के साथ स्क्रीन शेयर करने से इनकार कर दिया था? है न हैरानी वाली बात... चलिए बताते हैं पंगा क्या था.

खुदा गवाह में काम करने वाले थे संजय दत्त 

अमिताभ बच्चन की जोरदार हिट फिल्म 'खुदा गवाह' (Khuda Gawah) तो आपको याद ही होगी. फिल्म में अमिताभ बच्चन के साथ श्रीदेवी, नागार्जुन और शिल्पा शिरोडकर भी थे. हालांकि इस फिल्म में नागार्जुन की जगह इंस्पेक्टर वाला किरदार पहले संजय दत्त करने वाले थे. उन्हें न सिर्फ किरदार ऑफर हुआ था, बल्कि डायरेक्टर मुकुल आनंद की इस फिल्म के लिए वो कुछ दिन तक शूट भी कर चुके थे.

प्रोड्यूसर मनोज देसाई ने बताया था कि दत्त के साथ फिल्म में फराह नाज भी थीं. दोनों के साथ जो शूट किया गया था वो 7 रील्स में था. बाद में संजय दत्त के फिल्म छोड़ने के कारण ये सातों रील्स बर्बाद हो गयीं. 

क्या थी वजह 

कई रिपोर्ट्स में ऐसा बताया जाता है कि अमिताभ बच्चन और मुकुल आनंद की 'हम' देखने के बाद संजय इनसिक्योर थे. उन्हें लगा कि उस फिल्म में अमिताभ बच्चन के सामने रजनीकांत और गोविंदा के किरदारों को कम स्क्रीन टाइम दिया गया था. इसलिए उन्होंने कहा कि अमिताभ बच्चन हैं तो फिर फिल्म में उनके किरदार पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया जाएगा.

हालांकि, 'खुदा गवाह' के प्रोड्यूसर मनोज देसाई ने एक इंटरव्यू में बताया था कि असल में वजह कुछ और थी. संजय दत्त की फिल्म 'थानेदार' का गाना 'तम्मा तम्मा लोगे' जिस धुन पर बनाया गया था, वो असल में अमिताभ बच्चन के गाने 'चुम्मा चुम्मा देदे' के लिए बनाई गई थी. इससे संजय का कोई लेना देना तो नहीं था, मगर चूंकि वो फिल्म के हीरो थे और 'हम' के डायरेक्टर ही 'खुदा गवाह' बना रहे थे इसलिए उन्हें गाने की बात को लेकर बहुत परेशान किया गया.

मनोज देसाई ने बताया था कि संजय इतना तंग हो गए थे कि एक दिन अमिताभ बच्चन की वैन में जा पहुंचे और उन्हें 'सॉरी' बोलकर फिल्म छोड़ गए. 

बाद में एक साथ खूब किया काम 

संजय दत्त और अमिताभ बच्चन ने बाद में कई फिल्मो में साथ काम किया. बाद में वो 'अलादीन' 'हम किसी से कम नहीं' 'दीवार' और 'एकलव्य' जैसी कई फिल्मों में साथ नजर आए. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें