scorecardresearch
 

महेश मांजरेकर ने Swatantra Veer Savarkar से किया किनारा, रणदीप हुड्डा ने संभाली डायरेक्टर की गद्दी

रणदीप हुड्डा जल्द ही फिल्म 'स्वतंत्र वीर सावरकर' में अहम रोल में नजर आने वाले हैं. इसी बीच खबर आ रही है कि अब रणदीप केवल एक्टिंग करते ही नहीं, बल्कि फिल्म का निर्देशन संभालते हुए भी नजर आने वाले हैं. फिल्म के डायरेक्टर महेश मांजरेकर ने इस प्रोजेक्ट से अपना किनारा कर लिया है.

X
रणदीप हुड्डा रणदीप हुड्डा

बॉलीवुड एक्टर रणदीप हुड्डा फिल्म 'स्वतंत्र वीर सावरकर' में नजर आने वाले हैं. इस फिल्म से एक्टर का पहला लुक भी जारी हुआ था. हर ओर इसकी चर्चा हुई थी. अब फिल्म से जुड़ी लेटेस्ट रिपोर्ट में बताया जा रहा है कि रणदीप हुड्डा केवल एक्टिंग करते ही नहीं, बल्कि फिल्म का निर्देशन भी संभालते नजर आने वाले हैं. रणदीप हुड्डा फिल्म 'स्वतंत्र वीर सावरकर' में कोई कमी नहीं छोड़ना चाहते. इस फिल्म के लिए रणदीप हुड्डा ने बताया था कि उन्होंने करीब 18 किलो वजन कम किया है. फिल्म में रणदीप हुड्डा फ्रीडम फाइटर विनायक दामोदर सावरकर की भूमिका में दिखाई देंगे. यह एक बायोपिक फिल्म है. 

रणदीप संभालने जा रहे निर्देशन की गद्दी
PeepingMoon.com की लेटेस्ट रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि महेश मांजरेकर पहले इस फिल्म में निर्देशक की गद्दी संभाल रहे थे, लेकिन अब उन्होंने इस प्रोजेक्ट से किनारा कर लिया है. अब चैनल को करीबी सूत्रों से पता चला है कि रणदीप हुड्डा इस फिल्म में बतौर डायरेक्टर भी नजर आने वाले हैं. निर्देशन की गद्दी संभालने का जिम्मा उन्होंने उठाया है. अगले हफ्ते इस फिल्म की शूटिंग महाराष्ट्र में होनी शुरू होगी. 

कौन थे विनायक दमोदर सावरकर?
विनायक दामोदर सावरकर का जन्म 28 मई, 1883 में हुआ था. नासिक जिले के भागुर गांव से वह ताल्लुक रखते थे. अपने जमाने में हिंदू महासभा (हिंदू नेशनलिस्ट ऑर्गेनाइजेशन और पॉलिटिकल पार्टी) के वह एक अहम सदस्य रह चुके हैं. वह एक राजनेता, एक्टिविस्ट और राइटर भी थे. इन्होंने हिंदुत्व जैसी आइडियॉलिजी को जन्म दिया था. वीर सावरकर का निधन 26 फरवरी, 1966 में बॉम्बे में हुआ था. 

क्या आप जानते हैं कि नासिक जिले के कलेक्टर जैकसन की हत्या के लिए नासिक षड्यंत्र कांड के आरोप में सावरकार को 7 अप्रैल, 1911 को काला पानी की सजा सुनाते हुए अंडमान द्वीप के सेल्युलर जेल भेज दिया गया. इस जेल में कैदियों को कोल्हू में बैल की तरह जोत दिया जाता था. सावरकर 4 जुलाई, 1911 से 21 मई, 1921 तक पोर्ट ब्लेयर की जेल में रहे. अंडमान के एकांत कारावास में जेल की दीवारों पर कील और कोयले से कविताएं लिखीं और फिर उन्हें याद किया. इस प्रकार याद की हुई 10 हजार पंक्तियों को उन्होंने जेल से छूटने के बाद पुन: लिखा.

रणदीप हुड्डा के वर्कफ्रंट की बात करें, तो आखिरी बार इन्हें सलमान खान संग स्क्रीन शेयर करते देखा गया था. फिल्म 'राधेः यॉर मोस्ट वॉन्टेड भाई' में रणदीप हुड्डा अहम रोल में नजर आए थे. 'स्वतंत्र वीर सावरकर' के अलावा रणदीप हुड्डा के पास फिल्म 'अनफेयर एंड लवली' है. इस फिल्म में रणदीप हुड्डा, इलियाना डिक्रूज संग स्क्रीन शेयर करते दिखेंगे. इस फिल्म में सांवले रंग को लेकर लोग किस तरह की देश में सोच रखते हैं, यह दिखाया जाएगा. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें