scorecardresearch
 

दिल टूटने पर 'आइसक्रीम टब' और 'सैड सॉन्ग' लेकर बैठ रोती थीं राधिका मदान

अपनी दमदार एक्टिंग से लोगों का दिल जीतने वालीं राधिका मदान अपनी जिंदगी में ब्रेकअप के फेज से गुजर चुकी हैं. राधिका मानती हैं कि शायद ही दुनिया में ऐसा कोई हो, जिसका दिल न टूटा हो. अपने ब्रेकअप से ऊबरने के लिए राधिका क्या करती हैं, हमें बता रही हैं.

राधिका मदान राधिका मदान
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दिल टूटने पर क्या करते हैं सिद्दत के ये स्टार्स
  • राधिका को जहां आईसक्रीम का सहारा, तो वहीं सनी दोस्तों से करते हैं बात

राधिका मदान फिल्मों की तरह ही असल जिंदगी में भी काफी फिल्मी हैं. राधिका बताती हैं वे अपनी जिंदगी के हर इमोशन को फिल्मों से रिलेट कर उस एक्टर की तरह एक्ट करती रहती हैं.

इन दिनों राधिका अपनी अपकमिंग फिल्म सिद्दत को लेकर खासी एक्साइटेड हैं. प्यार-मोहब्बत, ब्रेकअप, सिद्दत जैसे इमोशन से भरपूर इस फिल्म में राधिका एक ऐसी लड़की के किरदार में है, जो अपने प्रेमी का दिल तोड़ती रहती हैं. 

BB OTT: क्या है शमिता-राकेश का रिलेशनशिप स्टेट्स? दिया ये जवाब

फिल्मों की तरह डील करती हूं ब्रेकअप 

आपको बता दें, राधिका असल जिंदगी में भी प्यार और ब्रेकअप के इमोशन से गुजर चुकी हैं. राधिका ने बताया कि उन्होंने ब्रेकअप के फेज को बहुत ही मुश्किल से पार किया है. लेकिन उस दौरान भी वे बिलकुल फिल्मों की तरह ही ब्रेकअप को डील कर रही थी. आजतक से बातचीत के दौरान राधिका बताती हैं, ऐसा कोई इंसान नहीं होगा, जिसका दिल नहीं टूटा होगा. ये एक ऐसा इमोशन होता है, जिससे हर कोई गुजर चुका है. 

सैड सॉन्ग सुनते हुए आइसक्रीम टब लेकर बैठती हूं

राधिका कहती हैं, जब भी ब्रेकअप की बात होती है, तो मैं थोड़ी फिल्मी हो जाती हूं. सबसे पहले तो मैं फिल्मी सैड सॉन्ग सुनना शुरू कर देती हूं. दिल जुड़े बिना ही टूट गए जैसे गाने बहुत अच्छे लगते हैं. इसके आगे का स्टेप यह है कि मैं आइसक्रीम टब लेकर बैठती हूं और रोते-रोते खाती हूं. फिर खूब रोती हूं और आखिर में दोस्तों के साथ मिलकर अपने गम को शेयर करती हूं. 

कोट पहनने पर Deepika Padukone हुईं ट्रोल, लोग बोले- मुंबई में सर्दी है क्या?

ऐसा लगता है सारे सॉन्ग आपके लिए लिखे गए हैं

मजेदार बात यह है कि उस वक्त इस सैड सॉन्ग इतने पसंद आने लगते हैं कि ऐसा लगता है कि मानों कि यह गाना केवल आप ही के लिए लिखा गया हो. राइटर ने आपके इमोशन को समझते हुए गाना तैयार किया है. 

दोस्त बने थे सहारा

वहीं सनी कौशल बताते हैं, मेरा जब दिल टूटा था, तो उस वक्त मेरे दोस्त ही मेरा सहारा थे. वे हमेशा आकर मुझे सपोर्ट करते थे. जिससे ब्रेकअप हुआ था, हमारे कई कॉमन फ्रेंड्स भी थे. ऐसे में घर से निकलना मेरे लिए थोड़ा मुश्किल हो गया था. जब दोस्त संग बातचीत होती है, तो आप चीजों को बेहतर तरीके से समझते हैं, आपको फिर पता चलता है कि कहां कमी रह गई थी. इसके बाद आप मूव ऑन कर जाते हैं. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें