scorecardresearch
 

लखनऊ में प्रियंका चोपड़ा का विरोध, पोस्टर लगाकर विरोधियों ने कहा- तुम्हारा स्वागत नहीं

इन दिनों प्रियंका चोपड़ा यूनिसेफ के प्रोग्राम के तहत दो दिनों के दौरे पर लखनऊ में हैं. लखनऊ के गोमतीनगर के संतमूलक चौराहे के पास एक्ट्रेस के विरोध में पोस्टर लगाया गया. इसमें लिखा था कि नवाबों के शहर में उनका स्वागत नहीं है. ये पोस्टर किसने लगाए इस बारे में अभी कोई जानकारी नहीं मिली है. पुलिस जांच में लगी है.

X
प्रियंका चोपड़ा
प्रियंका चोपड़ा

प्रियंका चोपड़ा तीन सालों के लंबे समय के बाद भारत आई हैं. प्रियंका लगातार सोशल मीडिया पर अपने भारत दौरे की तस्वीरें और वीडियो शेयर कर रही हैं. पहले माना जा रहा था कि मुंबई में अपने हेयर प्रोडक्ट अनॉमली का प्रमोशन करने के लिए प्रियंका आई हैं. लेकिन मुंबई के बाद अब प्रियंका चोपड़ा लखनऊ में हैं.

प्रियंका का हुआ विरोध

लखनऊ में उन्हें सोमवार को अलग-अलग आंगनबाड़ी केंद्रों में जाते और बच्चों से मिलते देखा गया था. इस बीच उनका विरोध भी शुरू हो गया है. लखनऊ के गोमतीनगर में प्रियंका चोपड़ा के विरोध में पोस्टर लगाए गए. पोस्टर में लिखा था- You Are Not Welcome In City Of Nawabs यानी नवाबों के शहर में तुम्हारा स्वागत नहीं है. 

प्रियंका चोपड़ा यूनिसेफ के प्रोग्राम के तहत दो दिनों के दौरे पर लखनऊ में हैं. गोमतीनगर के संतमूलक चौराहे के पास एक्ट्रेस के विरोध में पोस्टर लगाया गया था. ये पोस्टर किसने लगवाए है इसके बारे में गोमतीनगर पुलिस अभी जांच कर रही है. अभी किसी का नाम सामने नहीं आया है. 

मंगलवार का ये है प्लान

प्रियंका चोपड़ा लखनऊ में 2 दिन के लिए मौजूद है इस दौरान वह यूनिसेफ की तरफ से कई प्रोग्राम अटेंड करेंगी. सोमवार को उन्होंने प्राथमिक विद्यालय में जाकर स्कूल की गतिविधियों में शामिल हुई आंगनबाड़ी केंद्र में मीना मंच से रूबरू हुई गतिविधियों का अवलोकन किया. अब मंगलवार को एक्ट्रेस लोक बंधु अस्पताल जाएंगी और वन स्टॉप सेंटर 181 महिला हेल्पलाइन जाएंगी. इसके अलावा वह न्यू बोर्न केयर यूनिट और महिला चिकित्सालय के साथ गोमतीनगर स्थित यूनिसेफ कार्यालय पहुंचेंगी. 

लैंगिक असमानता पर की बात

लखनऊ में आंगनबाड़ी केंद्रों में जाते हुए प्रियंका चोपड़ा ने कई वीडियो और फोटो शेयर किए थे. उनका का वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें उन्हें लैंगिक असमानता के बारे में बात करते देखा गया. वीडियो में प्रियंका कह रही थीं, 'अभी मैं यूनिसेफ के साथ भारत के लखनऊ में हूं. हम लड़कियों के खिलाफ हिंसा और भेदभाव को खत्म करने के उद्देश्य से किए जा रहे काम को देखने के लिए यूनिसेफ के अलग-अलग भागीदारों के पास जा रहे हैं. मैं रोजमर्रा की जिंदगी में उनके सामने आने वाली चुनौतियों के बारे में सुनूंगी और समाधान देखूंगी, क्योंकि बड़े पैमाने पर समाधान की जरूरत है.' 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें