scorecardresearch
 

जब प्रेम चोपड़ा ने फिल्म के लिए शादी के बहाने ली छुट्टी, बधाई मिली तो बोले- लड़की छोड़कर चली गई

बॉलीवुड के सबसे आइकॉनिक विलेन्स में से एक प्रेम चोपड़ा, आए तो हीरो बनने थे. शुरू में जेब जरा टाइट थी तो पहले फिल्मों में काम ढूंढने के साथ नौकरी करने लगे. और जब एक्टिंग का काम मिलने लगा तो लम्बी छुट्टी लेनी पड़ती. तो प्रेम चोपड़ा ने एक से एक क्रिएटिव बहाने ईजाद करने शुरू किए. आइए बताते हैं ऐसे एक बहाने का किस्सा.

X
प्रेम चोपड़ा
प्रेम चोपड़ा

हिंदी फिल्मों के हीरो को एक स्क्रीन तोड़ नायक बनाने में आइकॉनिक विलेन्स का बहुत बड़ा योगदान है. हिसाब सीधा सा है, जितना बड़ा विलेन हीरो का असर भी उतना ही तगड़ा. इन बड़े-बड़े विलेन्स का जिक्र करते हुए एक लाइन याद किए बिना आगे बढ़ पाना मुश्किल ही नहीं, नामुमकिन है- 'प्रेम नाम है मेरा, प्रेम चोपड़ा.'

प्रेम साहब बॉलीवुड के उन आइकॉनिक विलेन्स में से एक हैं, जिन्होंने स्क्रीन पर इतने शैतान किरदार निभाए कि रियल लाइफ में लोग उनसे मिलने में घबराते थे. एक इंटरव्यू में बात करते हुए प्रेम चोपड़ा ने बताया था कि उनकी ऑनस्क्रीन इमेज का खौफ ऐसा था, कि जब लोग उनसे ऑफ स्क्रीन मिलते तो अपने बीवी-बच्चों को दूर खड़ा कर दिया करते थे.

लेकिन बेहद डैशिंग पर्सनालिटी वाले प्रेम साहब शिमला से मुंबई आए तो हीरो बनने ही थे. और बतौर हीरो वो शुरुआत में कुछ कामयाब भी हुए, मगर फिर किस्मत ऐसी पलटी कि वो स्क्रीन पर सबसे खौफनाक विलेन्स में से एक बन गए. 

पिता चाहते थे डॉक्टर बने बेटा
प्रेम चोपड़ा ने कई बार अपने इंटरव्यूज में कहा है कि उनके पिता चाहते थे कि वो डॉक्टर बनें और मेडिकल की पढ़ाई करें. उनके पिता को अपने पांच बेटों और एक बेटी में से सबसे लायक प्रेम ही लगते थे और वो खुद डॉक्टर नहीं बन सके थे, इसलिए चाहते थे कि उनका लायक बेटा, उनका ये सपना पूरा करे.

हालांकि, प्रेम साहब को इसमें कोई दिलचस्पी नहीं थी, इसलिए जब शिमला में स्कूल की पढ़ाई पूरी करने के बाद वो कॉलेज पहुंचे तो आर्ट्स पढ़ने लगे. यहीं पर प्रेम चोपड़ा ने ड्रामा सोसाइटी जॉइन की और नाटक वगैरह करने शुरू किए. दोस्तों और जानकारों ने भी उनका टैलेंट और पर्सनालिटी देखकर सलाह दी कि तुम एक्टिंग में ही ट्राई करो, चल जाओगे. 

मुंबई जाना है तो नौकरी करो 
प्रेम चोपड़ा ने बताया कि जब उन्होंने अपने पिताजी को एक्टिंग में किस्मत आजमाने की बात बताई तो जवाब मिला कि उन्हें पहले ग्रेजुएशन पूरी कर लेनी चाहिए और मुंबई जाकर कोई नौकरी खोजनी चाहिए ताकि वहां टिका जा सके. प्रेम ने बिल्कुल यही किया और एक जाने-माने अखबार के सर्कुलेशन डिपार्टमेंट में नौकरी करने लगे. ट्रेन में सफर करने के दौरान एक अजनबी ने प्रेम साहब को देखा और उनसे पूछा कि क्या वो फिल्मों में आना चाहते हैं?

यहीं से उन्हें अपनी पहली पंजाबी फिल्म 'चौधरी करनैल सिंह' मिली, वो भी बतौर हीरो. फिल्म खूब चली और प्रेम को आगे काम मिलने लगा. नौकरी पर रहते हुए ही उनका एक्टिंग करियर चल पड़ा और एक समय ऐसा आया जब वो दोनों कामों के बीच बैलेंस बनाने में बहुत स्ट्रगल करने लगे. 

3-4 बार लगाया शादी का बहाना 
एक इंटरव्यू में जब प्रेम चोपड़ा से पूछा गया कि वो नौकरी के साथ फिल्में करना कैसे मैनेज करते थे? तो उन्होंने बताया, 'झूठ बोलना पड़ता था थोड़ा. 3-4 दफे तो मुझे शादी करनी पड़ी.' ये शादी वाला मामला समझाते हुए प्रेम साहब ने बताया, 'नौकरी पर मुझे कहना पड़ता था- मुझे 10 दिन की छुट्टी चाहिए, शादी करने जाना है.'

ये एक ऐसा बहाना था जो सटीक काम कर जाता था. लेकिन जब फिल्म शूट करने के बाद वो वापिस लौटते, तो अपने बहाने का कवर-अप करने के लिए उससे भी बड़ा बहाना बनाना पड़ता था. प्रेम साहब ने बताया, 'शूट कर के वापस आता तो वो बधाई देने लगते थे. फिर मैं कहता- क्या मुबारक यार, शादी रास्ते में टूट गई. वो लड़की किसी और से प्यार करती थी.' 

पंजाबी फिल्मों से मिली कामयाबी ने प्रेम चोपड़ा को 'वो कौन थी?' 'शहीद' और 'तीसरी मंजिल' जैसी फिल्मों में काम दिलाया जिनमें उनका काम बहुत पसंद किया गया. इनके बाद बतौर हीरो प्रेम साहब ने 'कुंवारी' और 'मैं शादी करने चला' में काम किया लेकिन ये फिल्में नहीं चलीं. और कैरेक्टर रोल्स के रास्ते आगे बढ़ते हुए, उन्हें विलेन के रोल भी मिलने लगे. 

एक अलग इंटरव्यू में प्रेम चोपड़ा ने कहा कि शुरू में तो उन्हें नेगेटिव रोल करने में थोड़ा अजीब लगा क्योंकि वो आए हीरो बनने थे. लेकिन फिर जब उन्होंने अपने साथी हीरोज को कुछेक फिल्मों की नाकामयाबी के बाद इंडस्ट्री में जूझते देखा, तो यकीन आ गया कि विलेन किरदारों ने उनके करियर को बहुत लंबा कर दिया है.

प्रेम साहब 1960 में फिल्मों में आए और उनका ये शानदार करियर इतना लंबा रहा कि वो पिछली बार 2021 में रिलीज हुई 'बंटी और बबली 2' में नजर आए थे.   

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें