scorecardresearch
 

महामारी के कारण हाशिये पर पड़े लोगों की कोई सुध लेने वाला है?: पूजा भट्ट

पूजा ने लिखा- क्या कोई ऐसे लोगों की परवाह करता है, जो समाज के अंतिम हाशिये पर रहते हैं, जो ड्रग्स का इस्तेमाल करते हैं ताकि संघर्ष से भरे जीवन से निपटा जा सके? जो सपने देखने के लिए बहुत ज्यादा टूटे हुए होते हैं, लेकिन गरीबी के बीच मादक पदार्थों का पीछा करते हैं? उनके पुनर्वास में किसी की कोई दिलचस्पी है?

पूजा भट्ट पूजा भट्ट

एक्ट्रेस और डायरेक्टर पूजा भट्ट ने हाल ही में अपने एक ट्वीट के सहारे हाशिये पर मौजूद उन लोगों की आवाज उठाने की कोशिश की है जिनके बारे में अक्सर कम बात होती है. पूजा भट्ट ने हाल ही में इस ट्वीट के सहारे बताया है कि जो लोग बेहद गरीब तबके से आते हैं, जिनके लिए रोजमर्रा की जिंदगी एक संघर्ष है, क्या उनकी कोई सुध ले रहा है. पूजा ने ये भी कहा कि लाखों लोग बेरोजगारी के चलते डिप्रेशन का शिकार हो सकते हैं और नशे की ओर मुड़ सकते हैं और हमें एक दूसरे की मदद करने की जरूरत है.

उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा- क्या कोई ऐसे लोगों की परवाह करता है, जो समाज के अंतिम हाशिये पर रहते हैं, जो ड्रग्स का इस्तेमाल करते हैं ताकि संघर्ष से भरे जीवन से निपटा जा सके? जो सपने देखने के लिए बहुत ज्यादा टूटे हुए होते हैं, लेकिन गरीबी के बीच मादक पदार्थों का पीछा करते हैं? उनके पुनर्वास में किसी की कोई दिलचस्पी है?

इसके अलावा पूजा ने एक यूजर का ट्वीट रिट्वीट किया और लिखा- सिर्फ ये लोग ही नहीं बल्कि लाखों लोग. कोरोना वायरस के चलते लाखों लोग बेरोजगार हो रहे हैं. महामारी ने जबरदस्त परेशानी खड़ी की है. डिप्रेशन बढ़ रहा है. लोग नशाखोरी क रुख करेंगे. हमे एक दूसरे की मदद करने की जरूरत हैं.

पूजा को भी एक दौर में थी शराब की लत

बता दें कि पूजा भट्ट खुद शराब के नशे की आदी रह चुकी हैं. उन्होंने बताया था कि शराब हर दौर में मिलती थी, चाहे आपकी फिल्में सफल होती हैं या फिर आप असफल होते हैं  और इसे समाज में भी मान्यता प्राप्त है. इसके चलते वे काफी सालों तक शराब की आदी रहीं. हालांकि एक बार अपने पिता से बात करने के बाद उन्हें एहसास हुआ था कि उन्हें अपनी लाइफस्टायल को बदलने की जरूरत है और आज वे इस आदत से छुटकारा पा चुकी हैं. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें