scorecardresearch
 

Laal Singh Chaddha: आमिर खान के खिलाफ वकील ने दर्ज कराई शिकायत, धार्मिक भावनाएं आहत करने का आरोप

एक वकील ने दिल्ली के पुलिस कमिश्नर संजय अरोड़ा से बॉलीवुड एक्टर आमिर खान के खिलाफ शिकायत की है. इस शिकायत में आमिर के अलावा पैरामाउंट पिक्चर प्रोडक्शन हाउस और अन्य के नाम भी लिए गए हैं. शख्स का कहना है कि फिल्म का एक सीन और कारगिल युद्ध में लाल सिंह चड्ढा को भेजा जाना, गलत दिखाया गया है.

X
आमिर खान
आमिर खान

आमिर खान की फिल्म 'लाल सिंह चड्ढा' रिलीज के साथ विवादों में फंसती चली जा रही है. इस फिल्म के थिएटरों में लगने से पहले ही इसको बायकॉट करने की मांग तो उठ ही रही थी, अब जब दर्शकों ने इसे देखना शुरू कर दिया है तो अलग-अलग इल्जाम भी आमिर खान पर लगने शुरू हो गए हैं. लेटेस्ट रिपोर्ट्स की मानें तो शुक्रवार को आमिर खान के खिलाफ पुलिस में शिकायत की गई है.

आमिर के खिलाफ हुई शिकायत

दिल्ली के एक वकील ने दिल्ली के पुलिस कमिश्नर संजय अरोड़ा से बॉलीवुड एक्टर आमिर खान के खिलाफ शिकायत की है. आमिर के अलावा पैरामाउंट पिक्चर प्रोडक्शन हाउस और अन्य के नाम भी वकील ने लिये हैं. एएनआई के मुताबिक, वकील का कहना है कि फिल्म 'लाल सिंह चड्ढा' में भारतीय सेना और हिन्दुओं की भावनाओं को आहत किया है.

वकील का नाम विनीत जिंदल है. विनीत ने दिल्ली पुलिस को दी अपनी शिकायत में कहा है कि फिल्म में कई आपत्तिजनक कंटेंट हैं. साथ ही वह आमिर खान, डायरेक्टर अद्वैत चन्दन और पैरामाउंट पिक्चर्स प्रोडक्शन हाउस के खिलाफ आईपीसी की धारा 153, 153ए, 298 और 505 के तहत FIR दर्ज करवाना चाहते हैं.

कारगिल युद्ध के सीन से दिक्कत

अपनी शिकायत में विनीत जिंदल ने लिखा, 'इस फिल्म में दिखाया गया है कि एक मेंटली चैलेंज्ड शख्स को कारगिल युद्ध में लड़ने के लिए भारतीय सेना में भर्ती कर लिया जाता है. यह बात सभी जानते हैं कि कारगिल के युद्ध को लड़ने के लिए भारत के बेस्ट जवानों को भेजा गया था. कड़ी ट्रेनिंग के बाद सेना के इन जवानों ने यह युद्ध लड़ा था. लेकिन फिल्म के मेकर्स ने जानबूझकर इस सिचुएशन को भारतीय सेना को बदनाम करने वाला बनाया है.'

अपनी शिकायत में वकील ने फिल्म से जुड़े एक सीन पर भी आपत्ति जताई है. वकील का दावा है कि फिल्म में एक सीन है जहां पाकिस्तान का एक सैनिक लाल सिंह चड्ढा के किरदार से कहता है- 'मैं नमाज पढ़ता हूं और दुआ करता हूं, लाल, तुम ये क्यों नहीं करते हो?' इसपर लाल सिंह चड्ढा जवाब देता है- 'मेरी मां कहती है ये सब पूजा पाठ मलेरिया है. इससे दंगे होते हैं.'

हिंन्दुओं की भावना पर आंच?

शिकायत में इसे लेकर कहा गया है कि फिल्म में यह कहा जाना ना सिर्फ लोगों को उकसाता है बल्कि 'बड़े पैमाने पर हिन्दुओं की भावनाओं पर चोट करता है.' शिकायत में आगे कहा गया है कि भारत के संविधान में सभी को अपनी बात कहने की इजाजत है. लेकिन इस अधिकार का मिसयूज करना गलत है और देश के सम्मान और शांति के लिए यह खतरा है. साथ ही यह स्टेटमेंट समुदाय और धर्म के आधार पर देश के नागरिकों को उकसाता है और देश की सुरक्षा पर आंच लाता है.

शिकायत करने वाले का कहना यह भी है कि आमिर खान एक्टर और पब्लिक फिगर हैं, ऐसे में उनकी ऐसी बातों का असर बड़े पैमाने पर हो सकता है. हिन्दू सुमदाय के लिए आमिर खान का यह स्टेटमेंट देश की सुरक्षा, एकता और शांति संग पब्लिक ऑर्डर को भंग कर सकता है. 

'लाल सिंह चड्ढा', हॉलीवुड फिल्म 'फॉरेस्ट गंप' का हिंदी रीमेक है. फिल्म का स्क्रीनप्ले अतुल कुलकर्णी ने लिखा है, जो खुद भी जाने-माने एक्टर हैं और 'रंग दे बसंती' में आमिर के साथ काम कर चुके हैं. फिल्म में आमिर के साथ करीना कपूर खान, मोना सिंह और नागा चैतन्य ने भी काम किया है. यह पिछले चार सालों में आमिर खान की पहली फिल्म है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें