scorecardresearch
 

'बेटे के नाम पर राजनीति कर रहे हंसल मेहता', सुनकर भड़के डायरेक्टर

हंसल मेहता ने कोविड वैक्सीन को लेकर एक ट्वीट किया और उस ट्वीट पर बाद में बड़ा बवाल खड़ा हुआ. बवाल भी ऐसा कि डायरेक्टर पर बेटे के नाम पर राजनीति करने का आरोप लग गया.

हंसल मेहता हंसल मेहता

फिल्म डायरेक्टर हंसल मेहता सिर्फ शानदार फिल्म बनाने के लिए नहीं जाने जाते हैं. वे हर मुद्दे पर  बेबाकी से अपनी राय भी रखते दिख जाते हैं. लेकिन उनका ऐसा करना कई बार उन्हें मुसीबत में फंसा जाता है. इस बार हंसल मेहता ने कोविड वैक्सीन को लेकर एक ट्वीट किया और उस ट्वीट पर बाद में बड़ा बवाल खड़ा हुआ. बवाल भी ऐसा कि डायरेक्टर पर बेटे के नाम पर राजनीति करने का आरोप लग गया.

हंसल मेहता के इस ट्वीट पर बवाल

कुछ दिन पहले हंसल मेहता ने ट्वीट कर लिखा था- मेरा बेटा पल्लवा 25 साल का है. उसे Downs Syndrome है. उसे Respiratory Failure भी हो चुका है. अब उसे वैक्सीन चाहिए या फिर उसे इसकी सही में जरूरत है? अब मालूम हो कि हंसल की तरफ से ये ट्वीट तब किया गया था जब कई राज्य सरकारें ये मांग रही थीं कि कोविड वैक्सीन को अब सभी के लिए खोल दिया जाए. इर पर केंद्र की तरफ से स्पष्ट कहा गया था कि वैक्सीन पहले उसे मिलेगी जिसे जरूरत है, उसे नहीं जो चाहता है. हंसन ने सरकार के इसी रवैये पर नाराजगी जाहिर कर दी थी.

बेटे के नाम पर राजनीति?

लेकिन इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया के एक तबके ने डायरेक्टर को जमकर ट्रोल किया. उन पर संवेदनशील मुद्दे पर राजनीति करने का आरोप लगा. कहा गया कि हंसल अपने बेटे का इस्तेमाल कर लाइमलाइट में आने की कोशिश कर रहे हैं. एक यूजर ने लिखा-हंसल मेहता आपके बेटे को तो वैक्सीन बहुत पहले ही लग जाती. अब क्योंकि Down Syndrome इंसान के इम्यून सिस्टम को कमजोर करता है, ऐसे में सरकार ने इन लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए योग्य बताया था. लेकिन बेटे और राजनीति में चुनना मुश्किल रहता है.

हंसल का पलटवार

यूजर के इस तंज पर हंसल मेहता का गुस्सा सातवें आसमान पर जा पहुंचा. जोरदार पलटवार करते हुए हंसल ने लिखा- Downs Syndrome कोई बीमारी नहीं है. थोड़ी रिसर्च कर लेते. ट्रोलिंग से टाइम मिले तो कर लेना. वैसे भी मेरा प्वाइंट समझने की कोशिश करो, सीधे अपनी राय मत बनाओ.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें