scorecardresearch
 

आमिर खान ने 'लगान' में ढूंढ निकाली ये बड़ी गलती, बोले- पूरे गांव में सूखा पड़ा है, लेकिन भुवन...

आशुतोष गोवारिकर द्वारा डायरेक्ट की फिल्म लगान एक ऐसी फिल्म थी जो गांव की पृष्ठभूमि पर बनी थी. 2001 में रिलीज हुई इस फिल्म में आमिर एक किसान के रोल में थे. भुवन (आमिर) ऐसे गांव में रहता है जो सूखा-पीड़ित है, और बारिश ना होने की वजह से अकसर फसल खराब हो जाती है या फिर होती ही नहीं है.

X
आमिर खान
आमिर खान

आमिर खान (Aamir Khan) अपनी हर फिल्म के लिए पूरी तैयारी करते हैं. एक्टर पूरा समय लेते हैं, कहानी पर अच्छी तरह से रिसर्च करते हैं उसके बाद ही कोई फिल्म को शूट करते हैं. ऐसे ही थोड़ी न उन्हें बॉलीवुड का मिस्टर पर्फेक्शनिस्ट कहा जाता है. एक-दो को छोड़ दें तो उनकी फिल्में अकसर ही सुपरहिट होती हैं. लगान भी उनकी उन्हीं कल्ट फिल्मों में से एक गिनी जाती है. लगान उन फिल्मों में से है जो ऑस्कर तक के लिए नॉमिनेट हो चुकी है. किसी को शायद ही लगे कि उस फिल्म में कोई गलती हो सकती हैं. लेकिन इतने सालों बाद खुद आमिर ने अपनी ही फिल्म में गलती ढूंढ निकली है. 

क्लीन शेव वाले भुवन से आमिर को दिक्कत
IMDB को दिए एक इंटरव्यू में आमिर ने खुद बताया है कि फिल्म में सूखा दिखाया गया है. कहीं से मतलब नहीं बनता है कि कैरेक्टर को क्लीन शेव दिखाया जाए. अगर गांव में सूखा पड़ा है तो बंदा रोज शेव कैसे करेगा. आमिर से सवाल किया गया कि अगर लगान का रीमेक बनाना पड़े तो आज के समय के हिसाब से वो क्या चेंज करेंगे? जिसपर आमिर ने जवाब दिया- ''मैं आशुतोष से फिर से गुजारिश करूंगा कि भुवन के कैरेक्टर को क्लीन शेव ना दिखाए. मैंने तब भी उनसे रिक्वेस्ट की थी. मैंने कहा था कि यहां पानी नहीं है. यहां बारिश भी नहीं हो रही है. लोग जूझ रहे हैं और ये लड़का हर रोज शेव करता है. उसके पास कोई सीक्रेट पानी का सप्लाई है.''

हालांकि, डायरेक्टर आशुतोष ने उस वक्त भी आमिर की बात नहीं सुनी थी. आमिर ने कहा- ''मेरे लिए ये जरूरी नही था, लेकिन आशुतोष ने जोर दिया कि नहीं कैरेक्टर के लिए क्लीन शेव रहना जरूरी है. वो मुझे उसी लुक में देखना चाहते थे. तो अगर मुझे वापस लगान करने को मिले तो मैं इस बार जरूर दाढ़ी को बढ़ने दूंगा.''

आशुतोष गोवारिकर द्वारा डायरेक्ट की फिल्म लगान एक ऐसी फिल्म थी जो गांव की पृष्ठभूमि पर बनी थी. 2001 में रिलीज हुई इस फिल्म में आमिर एक किसान के रोल में थे. भुवन (आमिर) ऐसे गांव में रहता है जो सूखा-पीड़ित है, और बारिश ना होने की वजह से अकसर फसल खराब हो जाती है. अंग्रेजों को लगान देने की मार पड़ती है तो भुवन क्रिकेट खेलने का चैलेंज लेता है. ऐसी फिल्म अपने समय की सुपर-डुपर हिट फिल्म है, उसमें गलती ढूंढ़ना शायद ही किसी के बस की बात हो, लेकिन खुद मिस्टर पर्फेक्शनिस्ट ने ये गलती ढूंढ निकाली है, जिसपर आप और हम आज की तारीख में सिर्फ हंस ही सकते हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें