scorecardresearch
 

लखनऊ रैली में मायावती बोलीं- पीएम ने लोगों को फकीर बना दिया, अखिलेश को कहा बबुआ

मायावती ने कहा कि मेरी सरकार द्वारा बनाए गए बाबा साहेब के अंबेडकर के पार्कों में हजारों की संख्या में लोग आते थे. हमारे पार्कों में टिकट का चार्ज लगता है जिसका पैसा सरकार में जाता है, समाजवादी पार्टी जनता का पैसा सैफई महोत्सव में अपने परिवार के मनोरंजन में बर्बाद कर करती है

लखनऊ रैली में मायावती ने अखिलेश पर बोला हमला लखनऊ रैली में मायावती ने अखिलेश पर बोला हमला

बीएसपी प्रमुख मायावती ने लखनऊ में डॉ. बी.आर. अंबेडकर की पुण्यतिथि पर आयोजित रैली के दौरान मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और मुलायम पर निशाना साधा. मायावती ने बोला कि अखिलेश ने साबित किया है कि वो बबुआ ही है, क्योंकि वो हर सभा में ये कह रहे हैं पार्क में जहां हाथी खड़ा था वही खड़ा है और बैठा था वही बैठा है. उनका ये बयान दिखाता है कि वो अभी बबुआ है.

मायावती ने कहा कि मेरी सरकार द्वारा बनाए गए बाबा साहेब के अंबेडकर के पार्कों में हजारों की संख्या में लोग आते थे. हमारे पार्कों में टिकट का चार्ज लगता है जिसका पैसा सरकार में जाता है, समाजवादी पार्टी जनता का पैसा सैफई महोत्सव में अपने परिवार के मनोरंजन में बर्बाद कर करती है जिससे कोई आय नहीं होती. माया ने कहा कि नोटबंदी के बीच बार-बार हमारा नाम लें, अखिलेश यादव फ्री में हमारा प्रचार कर रहे है.

मायावती बोलीं कि समाजवादी पार्टी की सरकार महापुरूषों का अपमान कर, उनकी जन्मतिथियों पर छुट्टियां रद्द करती है.

मायावती ने कहा कि बी.आर. अंबेडकर ने संविधान को सभी जातियों को बराबरी के आधार बांटा था लेकिन बीजेपी और आरएसएस देश पर हिंदुत्व का एजेंडा थोपना चाह रही है. माया बोलीं कि मैं मुसलमानों से कहना चाहती हूं कि अगर आज वह पूरे देश में सुरक्षित हैं तो बाबा साहेब की वजह से. मायावती बोलीं कि यूपी की मास्टर की दलितों के हाथ में आई उसके बाद ही दलितों को पिछड़ो के उत्थान का काम हुआ, जबकि कांग्रेस और बीजेपी कभी भी ऐसा नहीं चाहती थी.

रैली में कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि आजादी के बाद से कांग्रेस ने कभी भी दलितों के आरक्षण का कोटा पूरा नहीं किया. मायावती बोलीं कि दलितों के पदोन्नति में आरक्षण के मुद्दे को भी कांग्रेस ने दबाने की पूरी कोशिश की थी, लेकिन बसपा ने लगातार संसद में कांग्रेस पर दबाव डाला. कांग्रेस पार्टी ने कभी बाबा साहेब को भारत रत्न से सम्मानित नहीं किया, कांग्रेस के रहते ही मंडल आयोग की सिफारिशें भी रद्द करनी पड़ी थी.

देश की 90 फीसदी जनता को किया फकीर

मायावती ने कहा कि पीएम मोदी खुद तो फकीर नहीं है लेकिन देश की 90 फीसदी जनता को फकीर बना दिया है, नोटबंदी का फैसला बिना तैयारी के लिए गया. मायावती ने कहा कि बीजेपी ने पहले ही पूंजीपतियों का काला धन ठिकाने लगा दिया था, लोगों की आंखों में धूल झोंकने के लिए बीजेपी ने बैंक अंकाउटों की डिटेल मांगी है.

सत्ता में आने पर करेंगे जांच

मायावती ने कहा कि जब हम सत्ता में आएंगे तब अखिलेश सरकार के सभी बड़े आर्थिक फैसलों की जांच कराएंगे, दोषी अधिकारियों और नेताओं को जेल भेजूंगी. इस फैसले के लिए हमें पूर्ण बहुमत की सरकार चाहिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें