scorecardresearch
 

UP elections 2022: 'सपा को गाली देने वाले आज उसी की गोद में बैठ गए' स्वामी प्रसाद मौर्य पर BSP का पलटवार

UP Elections 2022: समाजवादी पार्टी ज्वॉइन करने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य ने बीजेपी के साथ-साथ बहुजन समाज पार्टी को लेकर भी जमकर बयानबाजी की. इससे भड़की बसपा ने भी अब सपा नेता मौर्य को आड़े हाथों लिया है.

सतीश चंद्र मिश्रा और स्वामी प्रसाद मौर्य. सतीश चंद्र मिश्रा और स्वामी प्रसाद मौर्य.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • स्वामी प्रसाद मौर्य समेत बीजेपी के कई बागी विधायक सपा में शामिल हुए
  • रैली में मौर्य ने सीएम BJP और BSP पर जमकर हमला बोला

उत्तर प्रदेश की बीजेपी सरकार से इस्तीफा देने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य ने शुक्रवार को समाजवादी पार्टी का दामन थामा. इस दौरान मौर्य ने बीजेपी साथ-साथ बहुजन समाज पार्टी को लेकर भी जमकर बयानबाजी की. इससे भड़की बसपा ने भी अब सपा नेता मौर्य पर निशाना साधा है. पार्टी महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने एक वीडियो जारी कर स्वामी प्रसाद मौर्य पर तगड़ा पलटवार किया है. 

बसपा नेता सतीश चंद्र मिश्रा ने एक वीडियो जारी कर लिखा, ''अपने पुराने वक्तव्य याद कीजिए, समाज को बांटने वाली भाजपा व अपराधियों को संरक्षण देने वाली समाजवादी पार्टी में अब जाकर स्वामी प्रसाद मौर्य जी आप समाज को क्या संदेश दे रहे हैं? समाजवादी पार्टी को गाली देने वाले आज खुद समाजवादी की गोद में जाकर बैठ गए हैं.''

दरअसल, Koo App पर जारी वीडियो में स्वामी प्रसाद मौर्य कहते नजर आ रहे हैं, ''राज्य में बड़े पैमाने पर बहन-बेटियां दुराचार, अत्याचार, छेड़खानी और अश्लील हरकतों की शिकार हो रही हैं. बहन-बेटियों का स्कूल-कॉलेज, ऑफिस, बाजार जाना दूभर हो गया है. लेकिन गुंडे, माफिया और अपराधियों को संरक्षण देने वाली सपा सरकार आज महिलाओं के जिस उत्पीड़न को रोकने में नाकामयाब रही है और उस पर उत्तर देने के बयाय संसदीय कार्य मंत्री मध्य प्रदेश और राजस्थान के आंकड़े देकर अपने पापों को छिपाने की कोशिश कर रहे हैं.'' 

क्यों भड़की हुई है BSP

बसपा से भाजपा और फिर सपा का दामन थामने वाले मौर्य ने कहा था, मैं जिसका साथ छोड़ता हूं, उसका अता-पता नहीं रहता. बहनजी (मायावती) इसका जीता जागता उदाहरण हैं. वह बाबा साहब और कांशीराम के सिद्धांतों से हट गई थीं, उनको घमंड हो गया था. बहन मायावती ने दूसरा नारा दिया कि 'जिसकी जितनी तैयारी, उसकी उतनी भागीदारी.' वह थैली वालों के साथ खड़ी हो गई थीं.  

सपा में शामिल हुए ये नेता

गौरतलब है कि योगी सरकार से कैबिनेट मंत्री का पद छोड़ने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य और धर्म सिंह सैनी सहित 6 विधायकों ने शुक्रवार को आधिकारिक रूप से समाजवादी पार्टी से नाता जोड़ लिया. अखिलेश यादव की मौजूदगी में सबको पार्टी की सदस्यता दिलाई गई. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×