scorecardresearch
 

अरुणाचल के चुनावों में ‘धन्नासेठों’ की भरमार

अरुणाचल प्रदेश के विधानसभा चुनावों में भाग ले रहे 151 उम्मीदवारों में 60 से भी ज्यादा धन्नासेठ हैं.

अरुणाचल प्रदेश के विधानसभा चुनावों में भाग ले रहे 151 उम्मीदवारों में 60 से भी ज्यादा धन्नासेठ हैं.

‘नेशनल इलेक्शन वाच’ की रिपोर्ट
चुनाव सुधारों पर काम कर रहे 1200 गैर सरकारी संगठनों को मिलाकर बनाए गए ‘नेशनल इलेक्शन वाच’ की एक रपट के मुताबिक पीपुल्स पार्टी ऑफ अरुणाचल की टिकट पर पालिन विधानसभा सीट से लड़ रहे तकम तागर 229 करोड़ की संपति के साथ धन के मामले में सबसे आगे हैं.

फेहरिस्‍त में बीजेपी भी पीछे नहीं
उम्मीदवारों के शपथपत्रों का विश्लेषण करने के बाद रपट में कहा गया है कि कांग्रेस के टिकट पर दोइमुख और मुक्तो से चुनाव लड़ रहे नाबम रेबिया और दोरजी खांडू ने अपनी संपति क्रमश: 24 और 22 करोड़ रुपए की बताई है. इस फेहरिस्त में बीजेपी भी पीछे नहीं है. इटानगर से कमल पर किस्मत आजमा रहे बीजेपी के लिची लेगी ने अपने पास कुल 22 करोड़ रुपए की चल और अचल संपति बताई है.

पैन नंबर तक का उल्‍लेख नहीं किया
सबसे ज्यादा कांग्रेस की तरफ से 37 करोड़पति उम्मीदवार मैदान में हैं. उसके बाद नेशनल कम्यूनिस्ट पार्टी से 8, तृणमूल कांग्रेस से 7, छह बीजेपी और 4 पीपीए के हैं. इनमें एक निर्दलीय करोड़पति उम्मीदवार भी हैं. खास बात यह है कि 130 उम्मीदवारों में 49 ने अपने पैन खातों की कोई जानकारी देना जरूरी नहीं समझा. पीपीए के तकम तागर और कांग्रेस के दोरजी खांडू भी इनमें शामिल हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें