scorecardresearch
 

ये हैं देश के सबसे बुजुर्ग विधायक, 93 साल की उम्र में लिया चुनावी राजनीति से संन्यास

पश्चिमी महाराष्ट्र के सोलापुर जिले की सांगोल सीट पर विधायक रहे गनपतराव देशमुख का नाम सबसे लंबे समय तक विधायक रहने के रिकॉर्ड में डीएमके के दिवंगत अध्यक्ष एम. करुणानिधि के बाद दूसरे स्थान पर है. गनपतराव ने 2014 के विधानसभा चुनाव में भी सांगोल सीट से जीत दर्ज की थी, लेकिन इस बार उन्होंने चुनाव न लड़ने का फैसला किया है.

गनपतराव देशमुख (फोटो- फेसबुक) गनपतराव देशमुख (फोटो- फेसबुक)

  • देश के सबसे बुजुर्ग विधायक ने लिया चुनावी राजनीति से इस्तीफा
  • 1962 से अब तक 11 बार विधायक बने हैं गनपतराव देशमुख
  • गनपतराव की जगह इस चुनाव में सांगोल सीट से उतरे उनके पोते

महाराष्ट्र की राजनीति के सबसे बुजुर्ग नेता, पीजेंट्स एंड वर्कर्स पार्टी (PWP) के गनपतराव देशमुख ने आखिरकार 93 साल की उम्र में चुनावी राजनीति से संन्यास ले लिया है. 11 बार विधायक और पूर्व मंत्री गनपतराव ने स्वास्थ्य कारणों से राजनीतिक क्षेत्र और चुनाव प्रचार की परेशानियों से खुद को दूर रखा है.

उन्होंने पिछले साल अपनी योजनाओं की घोषणा की थी, लेकिन हाल ही में पीडब्ल्यूपी के महासचिव जयंत पाटिल ने देशमुख के निर्णय की आधिकारिक घोषणा की है. उन्होंने कहा कि पार्टी की इच्छा है उन्हें चुनाव लड़ना चाहिए.

पश्चिमी महाराष्ट्र के सोलापुर जिले की सांगोल सीट पर विधायक रहे गनपतराव देशमुख का नाम सबसे लंबे समय तक विधायक रहने के रिकॉर्ड में डीएमके के दिवंगत अध्यक्ष एम. करुणानिधि के बाद दूसरे स्थान पर है. जहां देशमुख 56 सालों तक विधायक रहे, वहीं करुणानिधि तमिलनाडु विधानसभा में 13 बार चुनकर 61 साल विधायक रहे थे.

1962 में बने थे पहली बार विधायक

छात्र जीवन से ही वामपंथी विचारधारा से प्रभावित और प्रतिष्ठित गनपतराव देशमुख 1962 में पहली बार विधायक बने थे. इसके बाद से, 1972 और 1995 को छोड़कर उन्होंने सभी चुनाव जीते. इस दौरान वे 1978 में तत्कालीन मुख्यमंत्री शरद पवार की अगुआई वाली सरकार और उसके बाद 1999 में दिवंगत मुख्यमंत्री विलासराव देशमुख की अगुआई वाली सरकार में मंत्री रहे.

पोते ने ली गनपतराव की जगह

गनपतराव देशमुख की जगह उनके पोते अनिकेत देशमुख को उम्मीदवार बनाया गया है. अनिकेत एक डॉक्टर हैं. महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव होने हैं और पीडब्ल्यूपी विपक्षी गठबंधन में शामिल हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें