scorecardresearch
 

BJP ने सरयू राय, ताला मरांडी, शालिनी गुप्ता, अमित यादव को निकाला

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा ने कहा कि झारखंड प्रदेश के वैसे नेता जो विधानसभा चुनाव में पार्टी के अधिकृत प्रत्याशी के खिलाफ चुनाव मैदान में हैं या प्रत्याशी का सार्वजनिक विरोध कर रहे हैं या संगठन के निर्देश के विपरीत कार्य करते हुए अनुशासन तोड़ रहे हैं, ऐसे सभी लोग पार्टी से निष्कासित माने जाएंगे.

पूर्व मंत्री सरयू राय की फाइल फोटो पूर्व मंत्री सरयू राय की फाइल फोटो

  • सीएम रघुवर दास के खिलाफ चुनाव मैदान में हैं सरयू राय
  • टिकट नहीं मिलने से खफा सरयू राय पार्टी के खिलाफ गए

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास के खिलाफ चुनाव लड़ना पूर्व मंत्री सरयू राय को भारी पड़ गया. पार्टी ने सरयू राय को निष्कासित कर दिया है. सरयू राय के अलावा ताला मरांडी, शालिनी गुप्‍ता, अमित यादव को भी बीजेपी से निकाल दिया गया है.

इस बारे में बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा ने कहा कि झारखंड प्रदेश के वैसे नेता जो विधानसभा चुनाव में पार्टी के अधिकृत प्रत्याशी के खिलाफ चुनाव मैदान में हैं या प्रत्याशी का सार्वजनिक विरोध कर रहे हैं या संगठन के निर्देश के विपरीत कार्य करते हुए अनुशासन तोड़ रहे हैं, ऐसे सभी लोग पार्टी से स्वत: निष्कासित माने जाएंगे.

राज्य के मंत्री सरयू राय ने बीजेपी के टिकट की दौड़ से खुद को अलग कर लिया था. उन्होंने कहा कि वे केंद्रीय नेताओं को असमंजस में नहीं रखना चाहते, इसलिए खुद को टिकट की दौड़ से अलग कर लिया है. उन्होंने कहा कि अब उन्हें टिकट में रुचि नहीं है.

दरअसल, सरयू राय सीएम रघुवर दास और सरकार के आलोचक माने जाने हैं. इस बार बीजेपी ने सरयू राय को टिकट नहीं दिया. नाराज सरयू राय ने निर्दलीय चुनाव लड़ने की योजना बना ली. 2014 में सरयू राय जमशेदपुर पश्चिम से चुनाव जीते थे. इसके बाद रघुवर सरकार में उन्हें खाद्य और नागरिक आपूर्ति मंत्री बनाया गया था. अपने कार्यकाल में सरयू राय रघुवर दास सरकार को लेकर काफी मुखर रहे थे और कई नीतिगत मुद्दों पर उनकी आलोचना की थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें