scorecardresearch
 

झारखंड: टिकट कटने से बागी हुए मंत्री सरयू राय, CM रघुवर के खिलाफ करेंगे नामांकन

सरयू राय ने शनिवार को बीजेपी के टिकट की दौड़ से खुद को अलग कर लिया. उन्होंने कहा कि वे केंद्रीय नेताओं को असमंजस में नहीं रखना चाहते, इसलिए खुद को टिकट की दौड़ से अलग कर लिया है. सरयू ने कहा कि अब उन्हें टिकट में रुचि नहीं है.

राज्यमंत्री सरयू राय की फाइल फोटो (IANS) राज्यमंत्री सरयू राय की फाइल फोटो (IANS)

  • बीजेपी के 71 उम्मीदवारों की सूची में नाम नहीं
  • अब तक टिकट न मिलने पर बागी हुए सरयू राय
  • CM रघुवर दास के खिलाफ चुनाव लड़ने का ऐलान

झारखंड विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से टिकट नहीं मिलने के बाद मंत्री सरयू राय ने रविवार को कहा कि वे जमशेदपुर ईस्ट से मुख्यमंत्री रघुवर दास के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे. सरयू राय ने कहा, मैं जमशेदपुर ईस्ट और जमशेदपुर वेस्ट दोनों ही सीटों से चुनाव लड़ूंगा. मैं अपना ज्यादातर समय जमशेदपुर ईस्ट को दूंगा और मेरे समर्थक जमशेदपुर वेस्ट सीट का ध्यान रखेंगे.

सरयू राय ने अपने समर्थकों के साथ रविवार को बैठक करने के बाद कहा कि वे दोनों सीटों से निर्दलीय लड़ेंगे. बीजेपी ने उनके टिकट को रोक दिया जिसके बाद राय नाराज हो गए. दोनों ही सीटों के नामांकन का आखिरी दिन सोमवार को है. राय सोमवार को दोनों सीटों से नामांकन दाखिल करेंगे.

सरयू राय ने न्यूज एजेंसी आईएएनएस से कहा, मैंने केंद्रीय नेताओं से कह दिया है कि वे कोई और उम्मीदवार चुन लें. अभी तक बीजेपी 71 उम्मीदवारों की सूची जारी कर चुकी है जिसमें राय का नाम नहीं है. वे 1995 से बीजेपी के मजबूत गढ़ रहे जमशेदपुर ईस्ट से चुनाव जीतते आ रहे रघुवर दास के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे.

राज्य के मंत्री सरयू राय ने शनिवार को बीजेपी के टिकट की दौड़ से खुद को अलग कर लिया. उन्होंने कहा कि वे केंद्रीय नेताओं को असमंजस में नहीं रखना चाहते, इसलिए खुद को टिकट की दौड़ से अलग कर लिया है. उन्होंने कहा कि अब उन्हें टिकट में रुचि नहीं है. झारखंड विधानसभा सीटों के लिए बीजेपी ने शनिवार को प्रत्याशियों की चौथी सूची जारी की है, जिसमें सरयू राय का नाम नहीं है. बीजेपी अब तक 71 प्रत्याशियों की सूची जारी कर चुकी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें