scorecardresearch
 

गुजरातः कांग्रेस के दिवंगत विधायक अनिल जोशीयारा के बेटे ने थामा बीजेपी का दामन

कांग्रेस के दिवंगत नेता डॉ. अनिल जोशीयारा के बेटे केवल जोशीयारा ने बीजेपी का दामन थाम लिया है. लिहाजा कांग्रेस को विधानसभा चुनाव से पहले एक और बड़ा झटका लगा है.

X
केवल जोशीयारा ने बीजेपी का दामन थाम लिया केवल जोशीयारा ने बीजेपी का दामन थाम लिया
स्टोरी हाइलाइट्स
  • गुजरात में इस साल के अंत में हैं विधानसभा चुनाव
  • बीजेपी ने अब तक कांग्रेस के 4 विधायकों को तोड़ा

गुजरात में इस साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं. लेकिन राजनीतिक उठापटक अभी से शुरू हो चुकी है. हाल ही में हार्दिक पटेल ने कांग्रेस के अलविदा कहा था. अब कांग्रेस को एक और झटका लगा है. दरअसल, कांग्रेस के दिवंगत नेता डॉ. अनिल जोशीयारा के बेटे केवल जोशीयारा ने बीजेपी का दामन थाम लिया है. प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल की मौजूदगी में वह बीजेपी में शामिल हुए. 

बीजेपी में शामिल होने के बाद केवल जोशीयारा ने कहा कि मेरे पिता आदिवासी समाज से आते थे. वह जब तक जीवित करहे लोगों की सेवा करते रहे. जनता की सेवा के लिए ही वह अरावली की भिलोडा सीट से विधायक बने. मैं भी अपने पिता के नक्शे कदम पर लूंगा और जनता की सेवा करूंगा. इसके लिए ही मैंने बीजेपी ज्वॉइन की है. मेरा लक्ष्य आमजन की सेवा करना है.

दिलचस्प बात ये है कि दिवंगत डॉ. अनिल जोशीयारा ने अपना पहला चुनाव बीजेपी के टिकट पर लड़ा था. और वह मंत्री बने थे, इसके बाद राष्ट्रीय जनता पार्टी से 1996 में चुनाव लड़ा. फिर उन्होंने 2000 में कांग्रेस का दामन थाम लिया था. डॉ. अनिल जोशीयारा एक भी चुनाव नहीं हारे. अब कयास लगाए जा रहे हैं कि अरावली की भिलोडा सीट से बीजेपी केवल जोशीयारा को मैदान में उतार सकती है.

बता दें कि विधानसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी अब तक कांग्रेस के 4 चार आदिवासी विधायकों को तोड़ चुकी है. इन चारों विधायकों ने बीजेपी का दाम थाम लिया है. वहीं राजनीति के जानकारों का कहना है कि बीजेपी इस बार कांग्रेस के पारंपरिक आदिवासी वोट बैंक में सेंध लगाने की कोशिश कर रही है. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें