scorecardresearch
 

हो गई थी लालू के अंत की भविष्यवाणी, फिर हुआ राबड़ी का उदय

साल 2000 में जब बिहार चुनाव हुए तो लगभग हर राजनीतिक विश्लेषक ने लालू प्रसाद यादव के अंत की भविष्यवाणी कर दी थी. क्योंकि इस लड़ाई में एक तरफ लालू यादव अकेले थे तो दूसरी तरफ वाजपेयी, आडवाणी, जॉर्ज फर्नैंडिस, नीतीश कुमार, राम विलास पासवान, शरद यादव, शत्रुघन सिन्हा. लेकिन जब नतीजे आना शुरू हुए तो एक पल को तो लालू को भी विश्वास नहीं हुआ था. अकेले आरजेडी की सीटें एनडीए की कुल सीटों से 2 अधिक थीं. देखें रिपोर्ट.

When Bihar elections were held in the year 2000, almost every political analyst had predicted the end of Lalu's political career. Lalu Yadav was alone in this battle, on the other side there were Vajpayee, Advani, George Fernandes, Nitish Kumar, Ram Vilas Paswan, Sharad Yadav, Shatrughan Sinha. But everyone was shocked when the results came. Watch Aaj Tak's special show patliputra on Bihar elections.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें