scorecardresearch
 

ऐसे 11 मिथक, जिन्‍हें हम फैक्ट समझकर सही मानते हैं

हमारी आस- पास की चीजों से जुड़े ऐसे कई मिथ्‍ा हैं, जिन्‍हें हम सच मानते है और उन पर भरोसा करते हैं लेकिन वो असल मायनों में बस एक वहम हैं.

Symbolic Image Symbolic Image

हमारी आस- पास की चीजों से जुड़े ऐसे कई मिथ्‍ा हैं, जिन्‍हें हम सच मानते है और उन पर भरोसा करते हैं लेकिन वो असल मायनों में बस एक वहम हैं.

1. कॉफी पीने के शौकीन लोगों को यह जानकर बहुत आश्‍चर्य होगा कि कॉफी सीड्स से बनती है बीन्स से नहीं.

2. बचपन से सुनते आए हैं कि गिर‍गिट जगह के हिसाब से रंग बदल लेता है. लेकिन सच तो ये है कि गिरगिट तापमान और मूड के हिसाब से रंग बदलता है.

3. चीन की दीवार चांद से दिखाई देती है, लेकिन ऐसा नहीं है, एस्‍ट्रोनॉट बताते हैं कि चंद्रमा से पृथ्‍वी पर देखने पर सफेद और नीले मार्बल दिखाई देते हैं.

4. पृथ्‍वी, सूरज और सभी ग्रह सोलर सिस्‍टम के चक्‍कर लगाते हैं, न कि सूरज के चक्‍कर लगाते हैं.

5. साइंटिफिक तौर पर यह बात प्रूफ हो चुकी है कि हमारी जीभ के अलग-अलग हिस्‍से में सेंसेशन होती है. कोई हिस्‍सा ज्‍यादा सेंसेटिव होता है तो कोई कम.

6. बच्‍चों को शुगर की मात्रा ज्‍यादा देने की वजह से बच्‍चे हाईपर बन जाते हैं. लेकिन यह सिर्फ एक मिथ है.

7. हमारे शरीर में पांच इंद्रियां होती हैं, लेकिन आपको मालूम है हमारे शरीर में 21 इंद्रियां होती है. जिनमें पांच इंद्रियां मुख्‍य होती है.

8. ठंड लगने पर अपने खाने में विटामिन सी की मात्रा को बढ़ा दें, इससे आपको काफी राहत मिलेगी, यह बात रिसर्च में साबित हो गई है.

10. हम अपने दिमाग का 10 प्रतिशत हिस्‍सा ही प्रयोग में ला पाते हैं, ये तथ्‍य पूरी तरह से एक मिथ है. सच तो यह है कि इंसान का दिमाग हर समय एक्टिव होता है और इसके सभी हिस्‍से यूज होत हैं.

11. मरने के बाद भी हमारे बाल और नाखून बढ़ते हैं, यह सिर्फ एक दिमागी वहम है. शरीर का कोई भी हिस्‍सा मरने के बाद क‍ाम नहीं करता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें