scorecardresearch
 

सिद्धांत ने बनाया देश का पहला 'म्यूजियम ब्रेल बुक'

जयपुर के एक हेरिटेज आर्किटेक्ट ने देश का पहला 'म्यूजियम ब्रेल बुक' तैयार किया है. जानिये क्या है यह किताब और इससे किसकी होगी मदद... 

फोटो : संदीप सहदेव फोटो : संदीप सहदेव

जयपुर के सिटी पैलेस म्यूजियम में पहली बार 'म्यूजियम ब्रेल बुक' रखी जाने वाली है. यह देश की पहली 'म्यूजियम ब्रेल बुक' है.

इस ब्रेल बुक को हेरिटेज आर्किटेक्ट सिद्धांत शाह ने बताया है.

तेरिया ने जो सपना देखा, उसे सच कर दिखाया

'म्यूजियम ब्रेल बुक' सिर्फ लिखित जानकारी नहीं देगी, बल्क‍ि इसमें छवियों को स्पर्श करके भी समझा जा सकेगा.इसे विशेषरूप से नेत्रहीन के लिए बनाया गया है.

मुर्दाघरों के बाहर घूमना इस लड़की का 'बिजनेस'

सिद्धांत ने ग्रीस से हेरिटेज मैनेजमेंट में एमए की डिग्री हासिल की है. इसके बाद इथोस-सेंट गोबेन ने सिद्धांत को संग्रहालयों के लिए ब्रेल बुक विकसित करने के लिए स्कॉलशिप दी.

14 साल के छात्र ने साइन की 5 करोड़ की डील, जानें क्या है खास

शुरुआत में सिद्धांत ने कई संस्थानों को लिखा, पर उनके किसी भी ई-मेल का जवाब नहीं मिला. ज्यादातर संग्रहालयों ने यह कहकर ऑफर ठुकरा दिया कि उनके संग्रहालय में नेत्रहीन नहीं आते.इसलिए उन्हें किसी ऐसे प्रोटोटाइप की जरूरत नहीं है.

डीपीएस स्टूडेंट ने बनाया ये खास ऐप, सीधे करें करोबारियों से बात

सिद्धांत ने इंटरव्यू में कहा कि इस बात से बहुत चोट पहुंचती थी कि जिस प्रोटोटाइपिंग को संग्रहालय में रखने से उन्हें ही खुद लाभ मिलने वाला था, उसके लिए वो तैयार नहीं हो रहे थे.  

6 महीने भटकने के बाद नई दिल्ली स्थ‍ित नेशनल म्यूजियम डीएजी मॉडर्न और जयपुर के सिटी पैलेस स्थ‍ित एमएसएमएसआईआई म्यूजियम ने सिद्धांत को सपोर्ट किया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें