scorecardresearch
 

PAK में स्‍टूडेंट्स की मांग, एग्‍जाम कैंसिल हों-ऐसे हों प्रमोट, सपोर्ट में आईं हस्‍त‍ियां

पाकिस्‍तान में भी पेरेंट्स और स्‍टूडेंट्स को कोरोना काल में एग्‍जाम का डर सता रहा है. सोशल मीडिया पर स्‍टूडेंट्स लगातार तीन दिनों से सरकार से एग्‍जाम कैंसिल करने की मांग कर रहे हैं. उनके सपोर्ट में पाक‍िस्‍तान की मशहूर हस्‍त‍ियां भी आ गई हैं.

प्रतीकात्‍मक फोटो (Getty) प्रतीकात्‍मक फोटो (Getty)

कोरोना की दूसरी लहर से पाकिस्‍तान भी जूझ रहा है. वहां अब तक सात लाख से ज्‍यादा कंफर्म केस आ चुके हैं. वहीं कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा भी हजारों में पहुंच चुका है. वहीं मई में होने जा रहे एग्‍जाम छात्रों और पैरेंट्स के लिए मुसीबत का सबब बने हुए हैं. ट्व‍िटर पर बीते कई दिनों से #Examcancelhoga जैसे हैशटैग के साथ स्‍टूडेंट्स प्रोटेस्‍ट कर रहे हैं. अब छात्रों के सहयोग में कई जानी-मानी हस्‍त‍ियां भी आ गई हैं. 

PAK में एग्‍जाम कैंसिल करके ऐसे प्रमोट करने की हो रही मांग

पाकिस्‍तान में छात्र एग्‍जाम कैंसिल करके टीचर एसेस्‍ड ग्रेड यानी शिक्षक-निर्धारित ग्रेड की मांग तेज हो गई है. कैम्ब्रिज एसेसमेंट इंटरनेशनल एजुकेशन (CAIE) प्रणाली के तमाम छात्रों ने अप्रैल और मई में आयोजित होने जा रहे ओ और ए स्तर की परीक्षाओं के खिलाफ बीते सप्‍ताह दो अप्रैल को कराची प्रेस क्लब (केपीसी) के बाहर विरोध-प्रदर्शन भी किया है. 

छात्रों का कहना है क‍ि पूरे साल ऑनलाइन पढ़ाई के बाद उनसे क्‍लासरूम में आकर एग्‍जाम देने की बात कही जा रही है. प्रदर्शनकारी छात्रों और उनके माता-पिता ने महामारी के चलते संघीय सरकार से मांग की है कि CAIE परीक्षाओं को रद्द किया जाए. छात्रों को अन्य देशों की तरह शिक्षक द्वारा निर्धारित ग्रेड के आधार पर मूल्‍यांकन किया जाए.

बता दें कि पाकिस्‍तान के शिक्षा मंत्री शफाकत महमूद ने मंगलवार को घोषणा की थी कि देश भर में परीक्षाएं मई के तीसरे सप्ताह से आयोजित की जाएंगी. इस बीच, कैम्ब्रिज परीक्षाएं निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार ही आयोजित की जाएंगी. इस पर गायिका हदीका कियानी और असीम अजहर ने सरकार से छात्रों के बारे में सोचने का आग्रह किया है.

गाय‍क असीम अजहर ने भी स्‍टूडेंट्स का सपोर्ट क‍िया है. देखें ट्ववीट:

पाकिस्‍तान मीडि‍या में भी एग्‍जाम कैंसिल करने को लेकर  चर्चा हो रही है. आजाद कश्‍मीर में भी एग्‍जाम कैंसिल करने की मांग को लेकर लगातार प्रदर्शन हो रहे हैं, लेकिन वहां की सरकार ने फिलहाल ऐसा कोई निर्णय नहीं लिया है. 

बता दें क‍ि भारत में भी छात्र लगातार ट्विटर पर एग्‍जाम कैंसिल करने की मांग कर रहे हैं. छात्रों और अभ‍िभावकों का तर्क है कि जब कक्षाएं ऑनलाइन हो सकती हैं तो एग्‍जाम क्‍यों नहीं हो सकते.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें