scorecardresearch
 

फीस बढ़ोतरी पर इलाहाबाद विश्विद्यालय में बवाल, अनशन पर बैठे छात्रों की हालत बिगड़ी

इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के सैकड़ों छात्र पिछले 10 दिनों से फीस में चार गुना बढ़ोतरी को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. छात्र संघ भवन पर धरना दे रहे हैं और आमरण अनशन शुरू किया है. सपा विधायक अतुल प्रधान ने केंद्र सरकार की नीतियों को गलत बताते हुए छात्रों के मुद्दे को विधानसभा में भी उठाने की बात कही है.

X
इलाहाबाद विश्विद्यालय मे धरने पर बैठे छात्र
इलाहाबाद विश्विद्यालय मे धरने पर बैठे छात्र

इलाहाबाद विश्विद्यालय में बढ़ी फीस का मामला बढ़ता जा रहा है. फीस बढ़ोतरी के लिए आमरण अनशन पर बैठे छात्रों की हालत बिगड़ने लगी है. छात्रों की तबियत बिगड़ते देख छात्रों को गुस्सा फूटने लगा है. शुक्रवार (16 सितंबर 2022) को गुस्साए छात्रों ने यूनियन हॉल के गेट पर लगा ताला तोड़ दिया है. वहीं समाजवादी पार्टी (सपा) विधायक अतुल प्रधान ने केंद्र सरकार की नीतियों को गलत बताते हुए छात्रों के मुद्दे को विधानसभा में भी उठाने की बात कही है.

दरअसल, इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के सैकड़ों छात्र पिछले 10 दिनों से फीस में चार गुना बढ़ोतरी को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. छात्र संघ भवन पर धरना दे रहे हैं और आमरण अनशन शुरू किया है. इस बीच छात्रों ने बढ़ाई गई फीस के विरोध में छात्र संघ भवन से चंद्रशेखर आजाद पार्क तक एक मसाल जुलूस भी निकाला और कॉलेज प्रशाशन से बढ़ाई गई फीस के आदेश को तत्काल वापस करने की मांग की.

छात्रों का आक्रोश देखकर विश्विद्यालय प्रशाशन ने यूनियन हॉल के गेट पर ताला लगवा दिया था. शुक्रवार को अनशन पर बैठे कुछ छात्रों की हालात बिगड़ने लगी तो एम्बुलेंस बुलाई गई लेकिन प्रशासन ने एम्बुलेंस को अंदर आने से मना कर दिया. इसपर गुस्साए छात्रों ने ताला तोड़ दिया.

गौरतलब है कि इलाहाबाद विश्वविद्यालय में 4 गुना फीस बढ़ा दी गई है जिसका छात्र लगातार विरोध कर रहे हैं. यह बढ़ी फीस नए सत्र में एडमिशन लेने वाले छात्रों को देनी होगी. कॉलेज प्रशासन द्वारा फीस वृद्धि के विरोध में छात्र करीब 10 दिनों से आमरण अनशन पर बैठे हैं. वहीं इन छात्रों ने मशल जुलूस निकाल कर कॉलेज प्रशासन द्वारा बढ़ाई गई फीस का विरोध किया और मांग की कि जल्द से जल्द इस आदेश को वापस लिया जाए नहीं तो उग्र आंदोलन किया जाएगा. यह मशाल जुलूस छात्रसंघ भवन से चंद्रशेखर आजाद पार्क तक निकाला गया जिसमें सैकड़ों छात्रों ने मशाल जुलूस में बढ़ाई गई फीस का विरोध किया और जमकर नारेबाजी की.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें