scorecardresearch
 

CBSE CTET Exam 2020: बोर्ड ने कहा- CTET एग्जाम डेट का वायरल हो रहा मैसेज फेक

सीबीएसई ने साफ कहा है कि सीटीईटी की किसी भी प्रकार की अपडेट और घोषणा को लेकर उम्मीदवार सीटीईटी वेबसाइट पर ही जाएं. वायरल हो रहे किसी मैसेज पर इस तरह यकीन न करें.

CBSE CTET Exam 2020 CBSE CTET Exam 2020

CTET Exam date 2020: केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा की तारीख को लेकर सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक मैसेज को सीबीएसई ने पूरी तरह फेक करार दिया है. सीबीएसई ने कहा है कि उम्मीदवार इस तरह के फेक वायरल मैसेज से अलर्ट रहें. सीबीएसई की ओर से जारी एक नोटिफिकेशन में कहा गया है कि ऐसा देखने में आया है कि सीटीईटी परीक्षा की तारीख को लेकर फेक मैसेज वायरल हो रहा है.

सीबीएसई बोर्ड ने स्पष्ट किया है कि सीटीईटी परीक्षा की तारीख को लेकर अभी तक केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने किसी तिथि की घोषणा नहीं की है. किसी भी तरह के फेक नोटिफिकेशन को उम्मीदवार सच मानकर उस पर विश्वास न करें. सीबीएसई ने इससे पहले कहा था कि कोराना काल के दौरान परिस्थ‍ितियां अनुकूल होने पर परीक्षाएं आयोजित कराई जाएंगी. 

देश भर में लाखों उम्मीदवार बेसब्री से सीबीएसई सीटीईटी परीक्षा ( CBSE CTET Exam 2020 ) की नई तारीख के इंतजार में हैं. बता दें कि परीक्षा की तारीख की घोषणा सीबीएसई द्वारा आधिकारिक वेबसाइट ctet.nic.in पर की जाएगी. 

पहले ये परीक्षा पांच जुलाई को प्रस्ताव‍ित थी, लेकिन बता दें क‍ि कोरोना संक्रमण को देखते हुए ये परीक्षा स्थग‍ित कर दी गई थी. अब जल्द ही इसकी नई डेट घोष‍ित की जाएगी. कहा जा रहा है कि ये परीक्षा सितंबर अंत‍िम सप्ताह या अक्टूबर के पहले सप्ताह आयोजित की जा सकती है. 

दो लेवल पर होती है CTET परीक्षा

सीबीएसई, सीटेट की परीक्षा प्राइमरी लेवल और उच्च प्राइमरी लेवल यानी कुल दो लेवल पर आयोजित कराता है. प्राइमरी लेवल की परीक्षा को पास करने वाला अभ्यर्थी क्लास 1 से लेकर क्लास 5 तक की कक्षाओं को पढ़ाने के लिए जबकि उच्च प्राइमरी लेवल की परीक्षा को पास करने वाला अभ्यर्थी क्लास 6 से लेकर क्लास 8 तक की कक्षाओं को पढ़ाने के लिए योग्य माना जाता है.

CBSE Notification 

CTET fake msg
CTET fake msg

ऐसा होता है परीक्षा का पैटर्न 

सीटेट की दोनों लेवल की परीक्षाएं 150-150 अंकों की होती हैं. इसमें पहले लेवल की परीक्षा में चाइल्ड डेवलपमेंट और पेडागागी, भाषा, गणित और एनवायरमेंटल स्टडीज से सम्बंधित कुल 150 प्रश्न पूछे जाते हैं. वहीं लेवल दो के लिए चाइल्ड डेवलपमेंट और पेडागोजी, भाषा, गणित और साइंस या  सोशल स्टडीज से सम्बंधित कुल 150 प्रश्न पूछे जाते हैं. सीटेट की परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग की कोई व्यवस्था नहीं की गई है.

पिछले साल की ही तरह होगी परीक्षा 

बता दें कि CTET परीक्षा बीते साल दो शिफ्टों में आयोजित की गई थी. पहली शिफ्ट सुबह और दूसरी शिफ्ट शाम. इस परीक्षा में दो पेपर आयोजित किए गए थे. पहला पेपर 1 (जो प्राथमिक स्कूल शिक्षक बनना चाहते हैं). दूसरी पेपर 2 ( जो कक्षा 6 और 7 में पढ़ाने के लिए पात्र होंगे).

परीक्षा ऑफलाइन मोड में आयोजित की गई थी. जिसमें उम्मीदवारों को 150 मिनट में 150 प्रश्न हल करने थे. पास होने के लिए कम से कम 90 अंक लाने होंगे. आपको बता दें, इस परीक्षा को पास करने के लिए सामान्य श्रेणी के लिए, उम्मीदवारों को 60% की आवश्यकता होती है. वहीं OBC/SC/ST उम्मीदवारों को 55% की आवश्यकता होती है. यानी कम से कम 82 अंक लाने होंगे.  सीटेट परीक्षा क्वालिफाई करने के बाद ये सर्टिफिकेट 7 सालों के लिए मान्य होगा.

2019 की परीक्षाा में पूछे गए थे इन टॉपिक्स से सवाल

- बाल विकास और अध्यापन (30 प्रश्न)- (30 नंबर)

- भाषा I (30 प्रश्न)- (30 नंबर)

- भाषा II (30 प्रश्न)- (30 नंबर)

- गणित (30 प्रश्न)- (30 नंबर)

-  पर्यावरण अध्ययन (30 प्रश्न)- (150 नंबर)

यह भी पढ़ें: 

School Reopen: इस साल मत खोलिए स्कूल, पेरेंट्स ने की दिल्ली CM से ये अपील

Schools Reopen: जानिए कब से खुल रहे हैं KV-JNV, लागू होंगे ये खास नियम

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें