scorecardresearch
 

Government Jobs: बिहार में छप्‍पर फाड़ सरकारी नौकरियां! शिक्षा विभाग में सबसे ज्‍यादा भर्तियां, जानें डिटेल्स

सबसे ज्यादा रिक्तियां शिक्षा विभाग में हैं जहां 1,80,000 शिक्षकों के खाली पड़े पदों पर बहाली शुरू होगी. साथ ही पुलिस विभाग ने 12 हजार रिक्तियों का ब्योरा भेजा है जिसमें सब इंस्पेक्टर, सार्जेंट, सहायक जेलर और 10 हजार सिपाही के पद शामिल हैं. सरकार का लक्ष्य दिसंबर 2022 तक 3 से 4 लाख भर्तियां करना है.

X
Sarkari Naukri in Bihar:
Sarkari Naukri in Bihar:

Bihar Sarkari Naukri: बिहार में महागठबंधन की सरकार के गठन के बाद सबसे बड़ा मुद्दा जो सियासी गलियारों में चर्चा का विषय बना है. वो है रोजगार का. तेजस्वी यादव ने 10 लाख रोजगार देने की बात कही, तो नीतीश ने एक कदम आगे बढ़कर उसे बीस लाख कर दिया. हालांकि, बिहार सरकार अपने वायदे को लेकर गंभीर भी दिख रही है, क्योंकि नियुक्तियों और भर्तियों को लेकर सामान्य प्रशासन विभाग और गृह विभाग ने सबंधित विभागों और जिलों से रिक्तियों का ब्यौरा मांगा था. अब सभी विभागों ने खाली जगहों का ब्योरा भेज दिया है. इतनी जल्दी इस पर काम हो रहा है कि सरकार के गठन के दिन ही विभागों को रिक्तियां मंगाने का निर्देश दे दिया गया था.

इन विभागों में होंगी भर्तियां
सबसे ज्यादा रिक्तियां शिक्षा विभाग से आई हैं. जहां 1,80,000 शिक्षकों के खाली पड़े पदों पर बहाली शुरू होगी. वहीं कुल 40,506 प्रधान शिक्षकों का भी शिक्षा विभाग और BPSC ने ब्योरा भेजा है. इन पदों पर भी जल्द बहाली शुरू हो सकती है. इसके साथ ही पुलिस विभाग ने 12 हजार रिक्तियों का ब्योरा भेजा है जिसमें सब इंस्पेक्टर, सार्जेंट, सहायक जेलर और 10 हजार सिपाही के पद शामिल हैं. वहीं कृषि विभाग ने 850 रिक्तियों का ब्योरा भेजा है. जिसमें प्रखंड कृषि पदाधिकारी,कृषि समन्वयक,सांख्यिकी समन्वयक शामिल हैं.

जल्‍द बहाली का भी है प्‍लान
इतना ही नहीं तेजस्वी यादव के वायदे का असर कहें या सरकार का एक्टिव होना. लगातार सभी विभागों के खाली पड़े पदों की रिक्तियों पर भर्ती का काम शुरू होने वाला है. वर्षों से राजस्व विभाग में सर्वेक्षण अमीन के पद भी खाली पड़े हैं. इस पर भी जल्द ही बहाली शुरू होगी. विभाग ने 2000 से ज्यादा सर्वेक्षण अमीन का ब्योरा भेज दिया है जबकि शिक्षा के बाद दूसरा सबसे ज्यादा बहाली करनेवाला विभाग स्वास्थ्य विभाग होगा. यहां एक साथ लगभग 12 हजार बहाली होंगी. विभाग ने इसका ब्योरा भी सामान्य प्रशासन विभाग को  भेज दिया है. इसके साथ ही जल्द ही तकनीकी सेवा आयोग, BPSC समेत सभी विभागों में वैकेंसी निकाले जाने की तैयारी है.

दिसंबर तक 3 लाख नौकरियों का लक्ष्‍य
इधर, विभागीय सूत्रों ने साफ किया है कि सितंबर में शिक्षक नियोजन के 7वें चरण की बहाली प्रक्रिया शुरू होगी. सरकार चाहती है कि जल्द से जल्द सरकार के पहले कुछ दिनों के कार्यकाल में पांच लाख लोगों की बहाली हो. उसके बाद और पांच लाख पर काम शुरू किया जाएगा. सरकार का लक्ष्य है कि दिसंबर 2022 तक लगभग 3 से 4 लाख पदों पर वैकेंसी देना और बहाली प्रक्रिया शुरू करना है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें