scorecardresearch
 

Railway Recruitment: रेलवे ने बहाल कर दी 2 साल से बंद पड़ी स्काउट और कल्चरल कोटे की भर्ती, जानें योग्यता

रेलवे में भारत स्काउट और कल्चरल कोटे की सीधी भर्ती पिछले 2 साल से बंद पड़ी थी. रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव के नेतृत्व में भर्ती बोर्ड ने अब तत्काल प्रभाव से इन दोनों कोटे की रेलवे भर्ती पर लगी को हटाने का आदेश दिया है. इस भर्ती की मांग को लेकर युवाओं ने भारत-स्काउट गाउड के मुख्यालय पर अनशन भी किया था.

X
Railway Recruitment (सांकेतिक तस्वीर)
Railway Recruitment (सांकेतिक तस्वीर)

रेलवे में पिछले 2 साल से बंद पड़ी भारत स्काउट और कल्चरल कोटे की भर्ती का रास्ता साफ हो गया है. रेलवे भर्ती बोर्ड (RRB) जल्द ही रेलवे में स्काउट और कल्चरल कोटे की भर्ती प्रक्रिया शुरू करेगा. रेलवे बोर्ड ने तत्काल प्रभाव से इन दोनों कोटे की रेलवे भर्ती पर लगी को हटाने का आदेश दिया है, जो पिछले दो वित्त वर्षों से बंद पड़ी थी.

रेलवे बोर्ड की डिप्टी डायरेक्टर स्थापना ललिथा आर मेनन ने सभी जोन के महाप्रबंधकों, उत्पादन इकाईयों और रेलवे भर्ती सेल (RRC) के अध्यक्षों को आदेश जारी कर दिया है. रेलवे इसी वित्त वर्श से स्पोर्टस कोटे की खाली पड़ी रिक्तियों को भरेगा, जिसका नोटिस जल्द जारी किया सकता है.

दरअसल, 1 जून 2022 को राष्ट्रपति स्काउट अश्वनी श्रीवास्तव और अमन गुप्ता के नेतृ्त्व में स्काउंटिंग से जुड़ी अन्य मांगों के साथ रेलवे के स्काउट-गाइड कोटे की वैकेंसी को फिर से बहाल कराने की मांग की जा रही थी. स्काउट के कई छात्रों ने भारत-स्काउट गाउड के मुख्यालय पर अनशन भी किया था. उसके बाद से एक बार फिर इस वैकेंसी पर लगी रोक को हटाने की मांग ने जोर पकड़ लिया. इस संबंध में फिर स्काउट गाइड मुख्यालय की ओर से प्रस्ताव भेजा गया.

वहीं, ऑल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन के केंद्रीय महामंत्री शिवगोपाल मिश्र ने भी रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव से पिछले महीने मुलाकात कर स्काउट गाइड, कल्चरल और स्पोर्ट्स कोटे की भर्ती पर लगी रोक को हटाने की मांग की थी.

रेलवे में मंडल प्रशासन आवश्कता के आधार पर समय-समय पर भारत स्काउट और कल्चरल कोटे से कलाकारों की सीधी भर्ती आयोजित करता था. इसके लिए चयन समिति का गठन भी किया गया था जिसमें रेल मंडल के सीनियर ऑफिसर शामिल थे. लेकिन पीयूष गोयल के रेलमंत्री बनने के बाद स्काउट, गाइड और कल्चर के साथ स्पोर्ट्स कोटे की भर्तियों पर रोक लगा दी गई थी.

अब अश्विनी वैष्णव के रेलमंत्री बनने के बाद उम्मीदवारों के मन में फिर से भारत स्काउट और कल्चरल कोटे की भर्ती की उम्मीद जगी है. ऑल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन के केंद्रीय महामंत्री शिवगोपाल मिश्र ने रेलमंत्री से मुलाकात कर इस भर्ती से रोक हटाने की मांग की है. शिवगोपाल मिश्र के आग्रह पर रेलवे बोर्ड ने इस वित्तीय वर्ष से स्काउट गाइड व कल्चरल कोटे की भर्ती बहाल कर दी है.

बता दें कि 'कोरोना काल' के दौरान भारत स्काउट गाइड के युवाओं ने जान की परवाह किए बिना अपनी सेवाएं दी थी. लोगों को ब्लड देने से लेकर स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत रेलवे स्टेशनों पर सफाई, यात्रियों की सेवा और कई जागरूकता अभियान में बढ़चढ़कर भाग लिया था.

स्काउट और गाइड पोस्ट के लिए योग्यता
मान्यता प्राप्त बोर्ड से मैट्रिक (कक्षा 10वीं) और इंटरमीडिएट (कक्षा 12वीं) परीक्षा पास होना चाहिए या संबंधित ट्रेड में आईआईटी सर्टिफिकेट होना चाहिए. इसके अलावा पिछले दो साल से किसी स्काउट संगठन का सक्रिय सदस्य होना जरूरी है. उम्मीदवार ने नेशनल लेवल या अखिल भारतीय रेलवे स्तर पर दो कार्यक्रमों और स्टेट लेवल पर दो कार्यक्रमों में भाग लिया होना चाहिए.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें