scorecardresearch
 

Free Coaching for Agniveer: इस राज्य में कक्षा 11वीं से शुरू होगी 'अग्निवीर' के लिए फ्री कोचिंग, रिटायर्ड सैनिक संभालेंगे कमान

Free Coaching For Agniveer: भारतीय थल सेना, वायु सेना और नौसेना में 'अग्निवीरों' भर्ती के लिए हरियाणा सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. सीएम ने बताया कि युवाओं को तैयारी के लिए फ्री कोचिंग और ट्रेनिंग दी जाएगी. फिलहाल इस प्रोग्राम की शुुरुआत 200 स्कूलों में की जाएगी. 50-50 छात्रों का ग्रुप बनाकर कोचिंग दी जाएगी.

X
भारतीय सेना के जवानों की फाइल फोटो भारतीय सेना के जवानों की फाइल फोटो
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अग्निवीर बनने के लिए हरियाणा सरकार देगी फ्री कोचिंग
  • पहले 200 स्कूलों में शुरू होगा ट्रेनिंग प्रोग्राम

Agniveer Free Coaching: इंडियन आर्मी, इंडियन नेवी और इंडियन एयर फोर्स में 'अग्निवीर' बन देश सेवा का सपना देख रहे उम्मीदवारों के लिए अच्छी खबर है. हरियाणा सरकार (Haryana Government) ने अग्निवीर की तैयारी के लिए बड़ा ऐलान किया है. राज्य सरकार उन युवाओं को फ्री कोचिंग की व्यवस्था करेगी, जो केंद्र की नई रक्षा भर्ती योजना के तहत 'अग्निवीर' के रूप में सेवा करना चाहते हैं. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (CM Manohar Lal Khattar) ने इसकी सूचना दी.

इन युवाओं को होगा फायदा, 11वीं क्लास से मिलेगा कोचिंग का ऑप्शन
गरीब परिवारों के युवाओं को अग्निवीर फ्री कोचिंग का फायदा होगा. जिन परिवारों की वार्षिक आय 1 लाख 80 रुपये से कम है, उन गरीब परिवार के युवाओं को इसका फायदा मिलेगा. सीएम ने कहा कि छात्रों को 11वीं कक्षा में प्रवेश के समय इसका विकल्प चुनना होगा. सीएम मनोहर लाल खट्टर ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा, 'हमारी सरकार ने #AgnipathScheme के तहत अग्निवीर बनने का सपना देख रहे गरीब परिवारों के युवाओं को फ्री कोचिंग देने का निर्णय लिया है. इस योजना के तहत विद्यार्थी से 11वीं के दाखिले के समय ही इस संबंध में पूछा जाएगा.'

 

रिटायर्ड सैनिकों की मिल सकती कमान
फिलहाल अग्निवीर फ्री कोचिंग प्रोग्राम हरियाणा के 200 स्कूलों में शुरू किया जाएगा. जहां 50-50 स्टूडेंट्स का बैच बनाया जाएगा और कोचिंग दी जाएगी. युवाओं की फिजिकल फिटनेस ट्रेनिंग देने के लिए जिला सैनिक बोर्ड और इच्छुक भूतपूर्व सैनिकों को वरीयता दी जाएगी. वहीं, एकेडमिक कोर्स के लिए स्कूली शिक्षकों की सेवाएं ली जाएंगी. 

 

गर्मी की छुट्टियों में होंगी 'अग्निवीर' के लिए कोचिंग
शुरुआत में ट्रेनिंग प्रोग्राम वीकेंड यानी सप्ताह के आखिरी दिन जबकि बाद में गर्मी की छुट्टियों के दौरान एक महीने के लिए आयोजित किया जाएगा. सीएम ने ट्वीट कर जानकारी दी कि, 'फिजिकल ट्रेनिंग हेतु ट्रेनिंग संस्थान व भर्ती कार्यालयों और जिला सैनिक बोर्ड में कार्यरत रहे व्यक्तियों व भूतपूर्व सैनिकों को वरीयता मिलेगी एवं शैक्षणिक भाग की तैयारी स्कूल के अध्यापक करवाएंगे.'

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें